फिटनेस जर्नलिंग एक ऐसी तकनीक है, जो आपको अपने वर्कआउट को ट्रैक करने, बेहतर खाने और अपने फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करेगी।

ऐसा नहीं है कि पहले फिट रहना आसान था, लेकिन कोविड-19 ने इसे और भी चुनौतीपूर्ण बना दिया है। लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के कारण लोगों का जिम और सार्वजनिक पार्कों में जाना बंद हो गया है। ऐसे में एक तकनीक जो काफी उपयोगी है वह है फिटनेस जर्नल को मेंटेन करना। यह आपकी दैनिक आदतों को ठीक करने और अपने आहार और कसरत व्यवस्था में प्रभावशाली परिवर्तन करने के लिए एक व्यक्तिगत दृष्टिकोण है।

फिटनेस जर्नल क्या है?

यह आपके स्वास्थ्य, आहार, व्यायाम की दिनचर्या, नींद के चक्र और तनाव के स्तर को प्रभावित करने वाले कारकों को लिखने और ट्रैक करने के लिए एक क्लासिक कागज-कलम तकनीक है। जर्नल को आपके कार्यक्रम, आहार और कसरत पैटर्न के अनुसार अनुकूलित किया जाना है, लेकिन इसमें आप दोहराव, सेट, टेम्पो, ब्रेक और भार उठाने की संख्या को शामिल करने पर विचार कर सकती हैं। आप सत्र से पहले और बाद में अपने परिश्रम, मनोदशा और ऊर्जा के स्तर को भी रिकॉर्ड कर सकती हैं।

आप अपनी फिटनेस के संबंध में अपने दैनिक, साप्ताहिक और मासिक लक्ष्यों और उपलब्धियों को अनिवार्य रूप से रिकॉर्ड करने के लिए एक डायरी या नोटबुक रख सकती हैं। यह डायरी कमियों को रिकॉर्ड करने में मदद कर सकती है, आपके स्वास्थ्य और फिटनेस लक्ष्यों तक पहुंचने में आपकी प्रगति को ट्रैक कर सकती है और सुधार क्षेत्रों का विश्लेषण करने में भी मदद कर सकती है।

डिजिटल होना भी एक विकल्प है क्योंकि ऑपरेटिंग सिस्टम में कई एप्लीकेशन उपलब्ध हैं, जो आपको अपने फिटनेस आंकड़ों को रिकॉर्ड करने और ट्रैक करने के साथ-साथ बायोमेट्रिक रीडिंग प्रदान करने में मदद करेंगे।

जर्नल रखना आपको फिट रखता है। चित्र: निष्‍ठा बिजलानी
जर्नल रखना आपको फिट रखता है। चित्र: निष्‍ठा बिजलानी

फिटनेस जर्नलिंग के लाभ

फिटनेस जर्नल आपको सकारात्मक बदलाव करने में मदद करते हैं! यहां फिटनेस जर्नल के 5 लाभ बताए गए हैं:

1. अपनी प्रगति को ट्रैक करें और फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करें

एक स्वस्थ जीवन शैली विकसित करने की दिशा में आपके प्रयासों को ट्रैक करने के लिए सेल्फ मॉनिटरिंग तकनीक वजन घटाने और मांसपेशियों को बढ़ाने में मदद कर सकती है। इन्‍हें नोट करना आपको व्यवस्थित रखेगा और आपकी प्रगति पर अंतर्दृष्टि प्रदान करेगी, जिससे आपको गति बनाए रखने और फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद मिलेगी। आप हमेशा अपने जर्नल को वापस देख सकती हैं और फिटनेस पर बने रहने के लिए कसरत फि‍र से कर सकती हैं।

2. खाने की स्वस्थ आदतें विकसित करता है

जर्नलिंग आपके दैनिक भोजन सेवन को ट्रैक करने और स्वस्थ खाने की आदतों को विकसित करने में मदद करेगी। आप खायी गई सब्जियों का नाम और मात्रा या प्रतिदिन खपत किए गए पानी की मात्रा को रिकॉर्ड कर सकती हैं।

यह आपको समय-समय पर अपनी आहार संबंधी आदतों की समीक्षा करने में मदद करेगा। आपको अपनी भोजन योजना को बेहतर बनाने में मदद करेगा। वास्तव में, अमेरिकन जर्नल ऑफ प्रिवेंटिव मेडिसिन में प्रकाशित एक अध्ययन में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि आपके भोजन के सेवन को रिकॉर्ड करने वाली पत्रिका को बनाए रखना आपके वजन घटाने को दोगुना कर सकता है।

3. प्रेरित रहें

जर्नलिंग आपको अपने द्वारा किए गए अद्भुत वर्कआउट को रिकॉर्ड करने में सक्षम बनाएगी और जब भी आप डिमोटिवेट महसूस कर रही हों तो उन्हें याद करने में आपकी मदद करेंगे। इसके अलावा, व्यायाम भी विचार मंथन और जीवन के अन्य पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करने का एक शानदार तरीका है।

जर्नल रखना आपको फिट और मोटीवेट करता है। चित्र: निष्‍ठा बिजलानी
जर्नल रखना आपको फिट और मोटीवेट करता है। चित्र: निष्‍ठा बिजलानी

एक फिटनेस जर्नल का उपयोग आपके अच्छे विचारों को लिखने के लिए भी किया जा सकता है, जो आपके काम या व्यक्तिगत जीवन से संबंधित हैं, जो आपको वर्कआउट के दौरान मिलते हैं। यह आपके मूड को बूस्ट करने और अधिक संतुलित जीवन जीने में मदद करेगा।

4. विश्लेषण और संशोधन

मासिक धर्म चक्र, हाईड्रेशन स्तर और तनाव के स्तर जैसे पहलुओं को फिटनेस जर्नल का उपयोग करके दिन-प्रतिदिन के आधार पर मैप किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, आप रिकॉर्ड प्रविष्टियों का उपयोग यह विश्लेषण करने के लिए कर सकती हैं कि क्या आप किसी विशेष दिन पर थकान महसूस करती हैं और इसके लिए योगदान करने वाले कारक क्या हो सकते हैं।

यह आपको अपने कसरत में आराम के दिनों को शामिल करने, व्यायाम के समय को बदलने, निरंतरता बनाए रखने और बेहतर खाने की आदतों को अपनाने में मदद करेगा।

5. चोट लगने से बचाए

दौड़ना हो या वज़न उठाना, ये दोनों व्यायाम शरीर पर भारी पड़ सकते हैं। फिटनेस जर्नलिंग एक निश्चित रूप या मुद्रा के कारण अनुभव की गई गति, भार उठाए गए या दर्द को रिकॉर्ड करने में मदद करेगी। इसलिए, आप गलतियां करने से बचने के लिए एक बेहतर जगह पर होंगे। अपने वर्कआउट में बदलाव करें और अपनी गति या वज़न को धीरे-धीरे बढ़ाएं।

तो गर्ल्‍स, अपने कसरत और खाने की आदतों को बढ़ाने और स्वस्थ जीवन जीने के लिए फिटनेस जर्नलिंग को आजमाएं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP to LinkedIn Auto Publish Powered By : XYZScripts.com