Wellness

oi-Seema Rawat

|

कोरोना टीकाकरण से जुड़े नियमों में कुछ अहम बदलावों को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी मिल गई है। जिसमें यह भी साफ कर दिया गया है कि अब अपने बच्चों को स्तनपान करवाने वाली महिलाएं भी कोरोना टीका लगवा सकती हैं। नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड 19 (NEGVAC) ने कुछ सुझाव दिए थे, जिनको अब स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी मिल गई है। गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन देने के मामले पर एक्सपर्ट ग्रुप अभी अंतिम नतीजे तक नहीं पहुंचा है।

कोरोना टीकाकरण पर NEGVAC के चार सुझावों को मिली हरी झंडी

– कोरोना से ठीक होने पर कोरोना टीकाकरण तीन महीने तक स्थगित किया जा सकता है।
– अगर कोरोना का पहला टीका लगवाने के बाद कोरोना हुआ है तो ठीक होने के बाद दूसरी खुराक 3 महीने तक स्थगित की जा सकती है।
– स्तनपान कराने वाली महिलाएं बिना किसी झिझक के कोरोना वैक्सीन लगवा सकती हैं।
– कोविड टीकाकरण से पहले रैपिड एंटीजन टेस्ट की जरूरत नहीं है।

GET THE BEST BOLDSKY STORIES!

Allow Notifications

You have already subscribed

English summary

Breastfeeding mothers can take covid-19 vaccination says negvac

The ministry took the decision after accepting new recommendations of National Expert Group on Vaccine Administration (NEGVAC) for COVID-19.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP to LinkedIn Auto Publish Powered By : XYZScripts.com