मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) की राजधानी मुंबई (Mumbai) के भांडुप में पानी से भरे फुटपाथ पर चल रही महिलाएं अचानक खुले मैनहोल में गिर गईं. इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसके वायरल होने के बाद से ही शहरवासियों में आक्रोश फैल गया है. यह घटना बुधवार शाम की है, जब मुंबई में रिकॉर्ड भारी बारिश हुई थी और कई हिस्से जलमग्न हो गए थे, जिससे उपनगरीय ट्रेनों को भी कई घंटों के लिए निलंबित कर दिया गया था.

हादसा होने पर टूटी BMC की नींद

वायरल सीसीटीवी फुटेज में दो अज्ञात महिलाओं को बारिश में छतरी के साथ फुटपाथ पर चलते हुए साफ देखे जा सकता है, और अगले ही पल थोड़े अंतराल पर उसी खुले मैनहोल के अंदर गिरती हुई देखी जा सकती हैं. हालांकि कुछ ही देर में उनको बाहर निकलते हुए भी देखा जा सकता है. सीसीटीवी फुटेज के वायरल होते ही मेयर किशोरी पेडनेकर (Kishori Pednekar) जांच के लिए मौके पर पहुंची. इसी तरह नगर आयुक्त आई.एस. चहल ने शहर भर में सभी जल निकासी मैनहोलों का तत्काल सर्वे करने और किसी भी टूटे, क्षतिग्रस्त या निकले हुए ढक्कन की मरम्मत का आदेश दिया है.

ये भी पढ़ें:- मंदिर की 47,000 एकड़ जमीन हुई ‘लापता’, अब खोजेगी सरकार

सिर्फ 1 प्रतिशत मैनहोल पर लगी है सुरक्षा ग्रिल

आज सुबह नागरिक कार्यकर्ताओं की एक टीम ने जाकर भांडुप मैनहोल कवर को बदल दिया, जो स्पष्ट रूप से पानी से अलग हो गया था. गौरतलब है कि 29 अगस्त, 2017 को, बॉम्बे अस्पताल के एक प्रमुख गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट के खुले मैनहोल में गिरने के बाद शहर स्तब्ध रह गया था और कई दिनों के बाद वर्ली से अरब सागर में उसका शव बरामद किया गया था. मुंबई की सड़कों में अनुमानित रूप से 3,50,000 से अधिक मैनहोल या ड्रेन होल या गटर कवर हैं, जिनमें से बमुश्किल 1 प्रतिशत को अतिरिक्त सुरक्षा ग्रिल के साथ लगाया गया है ताकि इंसानों या छोटे जानवरों को अंदर फंसने से रोका जा सके.

LIVE TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP to LinkedIn Auto Publish Powered By : XYZScripts.com