अब घर में नहीं पाल सकेंगे पिटबुल और राड वीलर, पंचकूला नगर निगम ने लगाया प्रतिबंध, नहीं मानने पर लगेगा जुर्माना

हाइलाइट्स

पालतु पशु मालिकों ने अपने कुत्तों का पंजीकरण नहीं कराया है, उनपर 2000 रुपये जुर्माना लगाया जाएगा
शहर सीमा में कुत्तों की ‘उग्र’ पिटबुल और रोटेवीलर नस्लों को पालतू जानवर के तौर पर रखने पर पाबंदी लगा दी है
बैठक के सामने एजेंडे के 24 विषय थे और सदन ने सभी पारित कर दिये

चंडीगढ़: पंचकूला (Panchkula) नगर निगम ने ‘‘कई स्थानों’’ से कुत्तों के हमलों के कई मामले सामने आने के बीच शहर सीमा में कुत्तों की ‘उग्र’ पिटबुल और रोटेवीलर नस्लों को पालतू जानवर के तौर पर रखने पर पाबंदी लगा दी है. अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.

महापौर कुलभूषण गोयल ने पंचकूला में संवाददाताओं को बताया कि निगम के सदन की एक बैठक में इस आशय का निर्णय लिया गया. उनके अनुसार बैठक के सामने एजेंडे के 24 विषय थे और सदन ने सभी पारित कर दिये.

क्या राजस्थान में गहलोत की जगह बनेंगे CM? सोनिया से बैठक के बाद क्या बोले पायलट

महापौर ने कहा, ‘‘ जहां तक कुत्तों से जुड़े मुद्दे की बात है तो जिन पालतु पशु मालिकों ने अपने कुत्तों का पंजीकरण नहीं कराया है, उनपर 2000 रुपये जुर्माना लगाया जाएगा. इसके अलावा शहर में कुत्तों की दो उग्र नस्लों पर रोक लगा दी गयी है। कई अन्य शहरों में पिटबुल और रोटेवीलर नस्ल पर पाबंदी है और पंचकूला में भी इनपर प्रतिबंध लगाया गया है.

Tags: Chandigarh, Dogs

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *