अमेरिका के खराब फ्लाइट सिस्टम का भारत पर क्या होगा असर, लेट होंगी फ्लाइट्स? जानें DGCA का जवाब

नई दिल्ली. अमेरिका में फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) की प्रणाली में तकनीकी खराबी बनी हुई है. ऐसे में अब भारत में भी इस बात पर चिंता जताई जा रही है कि क्या इसका असर भारत के विमानों पर भी पड़ सकता है. इसे लेकर डीजीसीए ने जवाब दिया है. नागर विमानन महानिदेशालय ने बताया है कि अमेरिका में विमान सेवा के व्यवधान का भारत के विमानों पर असर नहीं हुआ है. महानिदेशालय ने यह भी कहा है कि वह हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है.

डीजीसीए वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक भारत में फिलहाल इस व्यवधान का कोई असर नहीं देखा गया है. अधिकारियों के मुताबिक भारत से अमेरिका जाने वाली फ्लाइट की सर्विस पर कोई असर नहीं पड़ा है. महानिदेशालय ने यह भी कहा है कि वह हालात से वाकिफ है और हर इमरजेंसी के लिए तैयार है.

ये भी पढ़ें- अमेरिका का एयर सिस्टम ठप, सैकड़ों फ्लाइट्स प्रभावित, कमांड सिस्टम ने कहा- फिलहाल कोई हल नहीं

क्या है पूरा मामला
गौरतलब है कि एफएए की प्रणाली में तकनीकी खराबी के बाद बुधवार सुबह अमेरिका में सैकड़ों विमानों की आवाजाही ठप हो गई. इस बीच एफएए ने कंप्यूटर प्रणाली में खराबी के बाद विमानन कंपनियों को पूर्वी मानक समय के तहत सुबह नौ बजे तक घरेलू उड़ानों के प्रस्थान को रोकने के लिये कहा है. विमानन कंपनियों ने कहा कि उन्होंने पहले ही उड़ानों को रोकना शुरू कर दिया है.

एफएए ने कहा, “एफएए अपने ‘नोटिस टू एयर मिशन सिस्टम’ को बहाल करने के लिए काम कर रहा है. हम अंतिम सत्यापन जांच कर रहे हैं और सिस्टम को फिर से लोड कर रहे हैं.’’

राष्ट्रपति जो बाइडन को एफएए सिस्टम में खराबी के बारे में परिवहन मंत्री पीट बटिगीज ने जानकारी दी है.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन ज्यां-पियरे ने एक ट्वीट में कहा, “फिलहाल साइबर हमले का कोई सबूत नहीं है, लेकिन राष्ट्रपति ने डीओटी को कारणों की पूरी जांच करने का निर्देश दिया. एफएए नियमित अद्यतन जानकारी प्रदान करेगा.”

यह खराबी एफएए के ‘नोटम’ (नोटिस टू एयर मिशन) प्रणाली में गड़बड़ी के बाद आई. यह प्रणाली देश भर के हवाई अड्डों पर हवाई क्षेत्र के मुद्दों और अन्य सुविधाओं में देरी के बारे में पायलटों और अन्य कर्मियों को सचेत करती है.

उड़ानों पर नजर रखने वाली कंपनी ‘फ्लाइटअवेयर’ के मुताबिक इस खराबी के कारण अमेरिका के भीतर संचालित, अमेरिका में आने वाली या अमेरिका से प्रस्थान करने वाली 1,200 से ज्यादा उड़ान की आवाजाही में देरी हुई है जबकि 100 से ज्यादा उड़ानों को रद्द किया गया.

Tags: America, DGCA, International flights

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *