अमेरिका जाना इतना आसान नहीं, US वीजा के लिए करना पड़ रहा 3 साल का इंतजार; जानें अब क्या है वेटिंग टाइम

नई दिल्ली: अगर आप बिजनेस और टूरिस्ट वीजा पाकर अमेरिका जाने की सोच रहे हैं तो आपके लिए बुरी खबर है, क्योंकि अमेरिकी वीजा के अप्वाइंटमेंट यानी इंटरव्यू के लिए लिए भारतीयों को महीनों में नहीं, बल्कि सालों में इंतजार करना पड़ेगा. भारतीयों को अमेरिकी वीजा- बी1 (बिजनेस) और बी2 (टूरिस्ट) के लिए करीब तीन साल का तक का लंबा इंतजार करना पड़ रहा है. आधिकारिक आंकड़ों की मानें तो अमेरिकी वीजा पाने की राह देख रहे भारतीय आवेदकों के लिए वेटिंग टाइम 1000 दिनों के करीब है.

अमेरिकी स्टेट डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर सर्च करने से पता चलता है कि आज यानी 23 नवंबर तक बी1/बी2 वीजा इंटरव्यू के लिए वेटिंग टाइम यानी प्रतीक्षा अवधि 961 दिन है. बता दें कि भारत अमेरिकी वीजा के लिए लंबी प्रतीक्षा अवधि के मुद्दे को अमेरिका के समक्ष उठाता रहा है. इसके जवाब में अमेरिका का कहना है कि अमेरिका के लिए भारत (वीजा जारी करने के मामले में) नंबर एक प्राथमिकता है.

अमेरिकी स्टेट डिपार्टमेंट की वेबसाइट के मुताबिक, मुंबई में रहने वाले आवेदकों के लिए वेटिंग टाइम 999 दिन है तो वहीं, हैदराबाद के आवदेकों के लिए 994 दिन है. अमेरिकी वीजा के अप्वाइंटमेंट के लिए चेन्नई वालों को 948 दिनों का इंतजार करना पड़ेगा, जबकि केरल वालों का वेटिंग टाइम 904 दिन है. हालांकि, इसमें स्पष्ट कहा गया है कि यह अनुमान है क्योंकि कर्मचारियों की संख्या और वर्क लोड के आधार पर वेटिंग टाइम का समय आगे-पीछे भी हो सकता है.

बता दें कि सितंबर में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिका का दौरा किया था और उस दौरान उन्होंने अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के साथ वीजा आवेदनों के बैकलॉग का मुद्दा उठाया था. इस मसले पर एक टॉप अमेरिकी राजनयिक ने कहा कि वह इस मुद्दे के प्रति बेहद संवेदनशील हैं और वे दुनिया भर में इसी तरह की स्थिति का सामना कर रहे हैं, जो कि कोविड के कारण उत्पन्न हुई चुनौती है.

अमेरिकी दूतावास के एक वरिष्ठ अधिकारी की मानें तो अमेरिकी वीजा जारी करने की प्रतीक्षा अवधि में 2023 की गर्मियों तक कमी आने की संभावना है और वीजा आवेदनों की संख्या करीब 12 लाख तक पहुंचने का अनुमान है. अधिकारी ने कहा कि अमेरिका के लिए भारत (वीजा जारी करने के मामले में) नंबर एक प्राथमिकता है. हमारा उद्देश्य अगले साल के मध्य तक स्थिति को पूर्व कोविड-19 स्तर पर लाना है.

भारत उन कुछ देशों में से एक है, जहां अमेरिकी वीजा के लिए आवेदनों में कोरोना वायरस से संबंधित यात्रा प्रतिबंध हटाए जाने के बाद काफी तेजी देखी गई. अधिकारी ने कहा कि वीजा देने के लिए इंतजार के लंबे समय को ध्यान में रखते हुए अमेरिका और अधिक कर्मियों की भर्ती तथा ‘ड्रॉप बॉक्स’ सुविधाओं को बढ़ाने सहित कई पहल कर रहा है. उन्होंने कहा कि हर महीने करीब एक लाख वीजा जारी करने की योजना है. अमेरिका ने पिछले एक साल में करीब 82,000 वीजा जारी किए हैं.

Tags: India news, US Visa, Visa

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *