‘अर्थ वॉरियर’ पंकज, पर्यावरण बचाने के लिए अनोखे तरीके से करते हैं जागरूक

पर्यावरण खतरे में है! बीते सालों में दुनिया में जिस गति से विकास हुआ है. पर्यावरण को क्षति पहुंचने की गति भी उतनी ही ज्यादा तेजी से बढ़ी है. लेकिन प्रकृति के साथ संतुलन बनाए रखने के लिए हमने कई तरीकों की खोज की और लगातार कर रहे हैं. ऐसे तरीके जिनसे हमारी सुख सुविधाओं में वृद्धि तो हो, लेकिन प्रकृति के साथ संतुलन स्थापित करके हम प्रदूषण को कम कर सकें. हालांकि दुनिया में अभी पर्यावरण के प्रति जागरूकता की कमी है. जिसके चलते कई शिक्षित, जागरूक प्रकृति प्रेमी नए-नए तरीकों से लोगों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक कर रहे हैं. कोई पौधरोपण करके, नदी-तालाबों को स्वच्छ बनाकर, तो कोई वायु प्रदूषण को कम करने के लिए प्रयास कर रहा है. आज हम ऐसे ही एक युवा पंकज कुमार के बारे में बताने जा रहे हैं. जिनका पर्यावरण को बचाने के प्रति लोगों को जागरूक करने का तरीका जरा हटके है…

पंकज कुमार पीठ में बॉटल में एक पौधा लटकाए उससे ऑक्सीजन मास्क को जोड़ कर. मुंह पर ऑक्सीजन मास्क लगाए और सामने एक तख्ती जिस पर लिखा हुआ है “पेड़ लगाएं, पेड़ बचाएं.” इस तरह दिल्ली की सड़कों पर नजर आते हैं. पंकज का ये अनोखा अंदाज लोगों को काफी आकर्षित करता है. आइए जानते हैं पंकज कुमार से इसके पीछे की कहानी…

news 18

नौकरी के बाद बचा हुआ समय पर्यावरण संरक्षण के लिए देते हैं.

आखिर कैसे आया आइडिया 

न्यूज़ 18 से बात करने पर पंकज बताते हैं कि वो बिहार के रहने वाले हैं. पंकज अपने काम के चलते नोएडा रहने आ गए थे. लेकिन उनके मन में दूषित होते पर्यावरण को बचाने के लिए कुछ करने की इच्छा थी. जिसके चलते उन्होंने साल 2018 से लोगों को जागरूक करने के लिए इस तरह से ऑक्सीजन मास्क और पीठ पर पौधा लटकाकर निकलने का फैसला किया.

वो एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं और अपने बचे हुए समय में ऑक्सीजन मास्क और पौधा लटका कर सड़कों पर निकल जाते हैं. उनका कहना है कि उनके इस तरह से निकलने पर लोग उनकी तरफ काफी आकर्षित होते हैं. वो कभी-ट्रैफिक सिग्नल पर तो कभी किसी चौराहे पर खड़े रहकर लोगों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हैं.

वो लगातार 4 सालों से ये काम कर रहे हैं. इसके साथ ही पर्यावरण को बचाने के लिए और भी कई सारी गतिविधियां करते हैं. उनके ऐसा करने से लोग उनकी तरफ आकर्षित होते हैं. उनका कहना है कि लगातार बढ़ता पर्यावरण प्रदूषण हमारे जीवन पर सीधा असर डाल रहा है. जिससे आने वाले समय में हमारा जीना मुश्किल हो जाएगा. इसलिए हमें अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए पर्यावरण को संरक्षित रखने की जरूरत है. पर्यावरण को बचाने के लिए हमें पर्यावरण में होने वाले सभी तरह की प्रदूषण पर खासा ध्यान देने की जरूरत है. उनके इस काम से प्रभावित हुए लोग उन्हें  ‘ऑक्सीजन मैन’ कहकर पुकारते हैं. इसके साथ ही कई लोग उनसे जुड़कर उनके साथ पर्यावरण को संरक्षित करने की इस मुहिम में आगे आए हैं.

news 18

टीम अर्थ वॉरियर पर्यावरण से जुडे़ मुद्दों पर कार्य करती है.

‘अर्थ वॉरियर’ टीम 

पंकज अपने काम से समय निकालकर पर्यावरण को बचाने के लिए काम करते रहते हैं. जिसके चलते उनका साथ देने के लिए कई लोग आगे आए हैं. बीते साल से उनके साथ लगभग 50 से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं. जिसमें कई विद्यार्थी और कई कामकाजी लोग भी हैं जो अपना समय निकालकर छुट्टी के दिन उनके साथ काम करते हैं. वो सोशल मीडिया के माध्यम से भी लोगों को जागरूक करते हैं. इसके साथ ही पूरी टीम के साथ मिलकर उन्होंने अब तक कई गतिविधियां संचालित की हैं. अब भी वो कभी-कभी उनकी ‘ऑक्सीजन मैन’ वाली पोशाक में लोगों को जागरूक करने के लिए निकल जाते हैं. उनकी टीम के लोग भी पर्यावरण के प्रति स्कूली बच्चों और कॉलेज के विद्यार्थियों को जागरूक करने का काम करते हैं.

‘अर्थ वॉरियर्स’ ने अब तक की कई गतिविधियां 

पंकज और उनकी टीम यमुना की सफाई के लिए ‘यमुना क्लीनिंग अभियान’ चला रहे हैं. पंकज और उनकी टीम यमुना की सफाई के लिए हफ्ते में रविवार को और बीच में भी समय मिलने पर यमुना नदी की सफाई में लगी हुई है. इसी के साथ वो प्लास्टिक की रोकथाम के लिए भी काम कर रहे हैं. इसमें वो लोगों को प्लास्टिक के उपयोग को कम करने के लिए जागरूक करते हैं. साथ ही लोगों को मुफ्त में कपड़े के थैले दान करते हैं जिससे प्लास्टिक का उपयोग कम हो सके. इसी के साथ नुक्कड़ नाटक जैसे कार्यक्रम भी करते हैं. स्कूल-कॉलेजों में अपनी टीम के साथ जाकर स्टूडेंटस् को जागरूक करने का काम भी करते हैं.

टीम ‘अर्थ वॉरियर’ की नीता से बात करने पर वो बताती हैं कि “इस 15 अगस्त को 30 हजार सीड बॉल्स यमुना नदी के आसपास के इलाके में फेंकेंगे. जिससे कि आस-पास के क्षेत्र में पौधे उगने लगें.” नीता बताती हैं कि हम स्कूल के बच्चों के साथ पौधरोपण काम भी करते हैं. इसके अलावा असम में बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए भी हमारी टीम ने काम किया है.

news 18

टीम अर्थ वॉरियर पौधारोपण काम भी करती है.

लोगों को देते हैं ये संदेश 

पंकज को उनकी टीम के साथ कई स्कूलों में बच्चों को जागरूक करने के लिए बुलाया जाता है. उन्हें अब तक कई संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया जा चुका है. उनका कहना है कि पर्यावरण के प्रति हमें जिम्मेदार बनने की जरूरत है यदि हम इसी तरह लापरवाह रहेंगे तो हमारा जीना मुश्किल हो जाएगा. पर्यावरण का बढ़ता प्रदूषण मानव सभ्यता के लिए खतरा है. पंकज और उनकी टीम का कहना है कि इस साल जब हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, और हर घर तिरंगा फहराया जाएगा उसी के साथ लोगों से विनती है कि तिरंगे के साथ-साथ एक पौधा जरूर लगाएं. क्योंकि देश के सम्मान के साथ जब हरियाली भी चारों ओर बिखरेगी तो स्वतंत्रता की खूबसूरती में चार चांद लग जाएंगे.

Tags: Environment news, News18 Hindi Originals

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *