आम आदमी पार्टी को दिल्ली HC से झटका, LG सक्सेना के खिलाफ पोस्ट हटाने का निर्देश; जानें मामला

नई दिल्ली: दिल्ली हाईकोर्ट से आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लगा है. हाईकोर्ट ने आम आदमी पार्टी (आप) और इसके कई नेताओं को एलजी विनय सक्सेना पर ‘झूठे’ आरोप लगाने से बचने का मंगलवार को निर्देश दिया. हाईकोर्ट की ओर से अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी और नेताओं को उपराज्यपाल वीके सक्सेना के खिलाफ कथित ‘खादी घोटाले’ से जुड़े सोशल मीडिया पोस्ट को हटाने के लिए भी कहा गया.

दिल्ली हाई कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली के उपराज्यपाल के खिलाफ के किए गए व्यक्तिगत ट्वीट को 48 घंटे के भीतर अपने सोशल मीडिया हैंडल से हटा दें. दरअसल, आम आदमी पार्टी और इसके नेताओं ने उपराज्यपाल वीके सक्सेना पर 1400 करोड़ रुपये के कथित घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया था.

इसी के बाद एलजी वीके सक्सेना ने ‘आप’ और उसके पांच नेताओं से ब्याज सहित 2.5 करोड़ रुपये के हर्जाने और मुआवजे की भी मांग की थी. इसके अलावा उन्होंने, ‘आप’, इसके नेताओं आतिशी सिंह, सौरभ भारद्वाज, दुर्गेश पाठक, संजय सिंह और जैस्मीन शाह को सोशल मीडिया पर साझा किए गए ‘झूठे’ और ‘मानहानिकारक’ पोस्ट, ट्वीट या वीडियो हटाने का निर्देश देने की भी अपील की थी.

[embedded content]

इस मामले की सुनवाई के दौरान दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस अमित बंसल ने अंतरिम राहत देते हुए कहा कि मैं वादी के पक्ष में फैसला सुनाता हूं…’. बता दें कि ‘आप’ के नेताओं ने आरोप लगाया था कि सक्सेना खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्यक्ष के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान एक घोटाले में शामिल थे.

Tags: AAP, DELHI HIGH COURT, Delhi LG

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *