इंटरपोल की कार्यकारी समिति में सीबीआई के विशेष निदेशक प्रवीण सिन्‍हा चुने गए

नई दिल्‍ली. इस्‍तांबुल (तुर्की) में आयोजित 89वें इंटरपोल महासभा के दौरान कार्यकारी समिति के लिए हुए चुनाव में एशिया के प्रतिनिधि के रूप में केंद्रीय जांच ब्‍यूरो (सीबीआई) के विशेष निदेशक प्रवीण सिन्‍हा (CBI Special Director Praveen Sinha) को चुना गया. यह एक बड़ा और कठिन चुनाव था जिसमें भारतीय उम्‍मीदवार को जीत हासिल हुई है. इसमें चार अन्‍य प्रतियोगी चीन, सिंगापुर, कोरिया गणराज्‍य और जॉर्डन शामिल थे. भारत ने दो पदोंं के लिए चुनाव लड़ा था. जानकारी के मुताबिक इन चुनावों को लेकर भारतीय उम्‍मीदवार के पक्ष में माहौल बनाने के लिए काफी दिनों से प्रयास जारी थे.

जानकारी में बताया गया कि लॉबिंग के लिए न केवल दिल्‍ली में राजदूतों और उच्‍चायुक्‍तों से संपर्क किया गया, बल्कि विभिन्‍न स्‍तरों पर द्विपक्षीय संबंधों में मित्र देशों से भी समर्थन मांगा गया. भारतीय दूतावासों और उच्‍चायोगों ने भी इस चुनाव में अपनी भूमिका निभाई.

ये भी पढ़ें  :  पीएम मोदी ने जेवर एयरपोर्ट का किया शिलान्यास, बोले- ये कनेक्टिविटी का मॉडल

ये  भी पढ़ें :  NEET UG 2021: नीट परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट का आदेश, समिति के सुझाव पर हलफनामा दाखिल करे केंद्र सरकार

प्रवीण सिन्‍हा ने कहा है कि हम उन सभी देशों की दिल से सराहना करते हैं जिन्होंने भारत को वोट दिया. आज की जीत दुनिया भर में एक गहन और अच्छी तरह से समन्वित चुनाव अभियान का परिणाम है. अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन (इंटरपोल) अंतरराष्ट्रीय संगठित अपराधों, आतंकवाद और साइबर अपराधों के बढ़ते खतरे से निपटने के लिए एक महत्वपूर्ण निकाय है.

[embedded content]

भारत इंटरपोल के उद्देश्यों और उद्देश्यों में सक्रिय रूप से योगदान देना और अपनी पेशेवर क्षमता और अनुभव के माध्यम से इसकी प्रभावशीलता को बढ़ाना जारी रखेगा. साथ ही, भारत का राष्ट्रीय केंद्रीय ब्यूरो (एनसीबी-इंडिया) इस चुनाव के प्रचार के लिए दुनिया भर के अपने समकक्षों के पास पहुंचा. तुर्की में भारतीय राजदूत ने पिछले कुछ दिनों से इस्तांबुल में डेरा डाला और समर्थन हासिल करने के अंतिम प्रयासों के लिए प्रतिनिधिमंडलों के साथ जमीनी स्तर पर द्विपक्षीय बैठकें कीं.

Tags: CBI, Interpol

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *