उत्‍तराखंड के इन दो गांवों की खूब हो रही चर्चा, देश को द‍िए 'बैक टू बैक' दो CDS

हाइलाइट्स

जनरल ब‍िप‍िन रावत का गांव द्वारीखाल ब्‍लॉक में साइना गांव
वर्तमान सीडीएस अन‍िल चौहान का गवाना गांव साइना गांव से महज 90 क‍िमी की दूरी पर है
दोनों सीडीएस एक ही रेज‍िमेंट 11 गोरखा राइफल्‍स में रहे चुके हैं साथ, चीनी मामलों के व‍िशेषज्ञ

देहरादून. देश के नए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में सेवान‍िवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान की न‍ियुक्‍त‍ि की गई है. इससे पहले इस पद पर पहली न‍ियुक्‍त‍ि जनरल बिपिन रावत (Gen Bipin Rawat) की गई थी. जनरल ब‍िप‍िन रावत देश के पहले सीडीएस (CDS) बनाए गए थे. ले‍क‍िन इस साल उनका एक हेल‍िकॉप्‍टर दुर्घटना में न‍िधन हो गया था. इसके बाद से करीब नौ माह से यह पद र‍िक्त पड़ा था. लेक‍िन लेफ्टिनेंट जनरल अन‍िल चौहान (retd Lt Gen Anil Chauhan) की नियुक्ति के बाद पूरे उत्तराखंड में जश्न का माहौल है. पूर्ववर्ती जनरल रावत भी उत्‍तराखंड से ही नहीं, बल्‍कि उसी पौड़ी गढ़वाल ज‍िले के एक गांव द्वारीखाल ब्‍लॉक के साइना गांव (Saina village) से थे, जोक‍ि नवन‍ियुक्‍त सीडीएस अन‍िल चौहान के गांव खिर्सू ब्‍लॉक के गवाना गांव (Gawana village) से महज 90 क‍िमी की दूरी पर है. यानी उत्‍तराखंड के दो गांवों ने देश को एक के बाद एक दो सीडीएस दिए हैं.

उत्‍तराखंड के लोग इन द‍िनों बेहद खुश हैं क‍ि भारतीय सेना (Indian Army) में सर्वोच्च पदस्थ अधिकारी के रूप में सक्रिय ड्यूटी पर राज्‍य के अध‍िकारी हैं. दोनों वर्तमान और पूर्ववर्ती सीडीएस के गांवों के बीच का अंतराल महज 90 क‍िमी है. खास बात यह है क‍ि नवन‍ियुक्‍त सीडीएस चौहान भी ब‍िप‍िन रावत की तरह 11 गोरखा राइफल्‍स से संबंधित रहे हैं और दोनों ही चाइना मामलों में व‍िशेषज्ञ माने जाते रहे हैं.

आज CDS का पद संभालेंगे ले. जनरल चौहान, कश्मीर-पूर्वोत्तर में आतंक के सफाए का है अनुभव

रिटायर्ड कर्नल अजय कोठ‍ियाल का कहना है क‍ि दो वर्दीधारी अधिकारी, जो न केवल एक ही राज्य से बल्कि एक ही जिले से भी एक ही रेजिमेंट में सेवा कर चुके हैं, आज देश के शीर्ष सैन्य अधिकारी बन गए हैं. यह पूरे उत्तराखंड के लिए गौरव और हर्ष की बात है. पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दोनों के बीच समानता बताते हुए कहा क‍ि यह एक संयोग है कि दोनों एक ही राज्य से नहीं बल्कि एक ही रेजिमेंट 11 गोरखा राइफल्‍स से हैं. यह काफी असाधारण है.

बताते चलें क‍ि अन‍िल चौहान मई 2021 में भारतीय सेना से र‍िटायर हो गए थे. वह सेवानिवृत्ति के बाद से ही राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय के रक्षा सलाहकार के रूप में काम कर रहे थे, जोक‍ि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) के अधीन कार्य करता है. गौर करने वाली बात यह है क‍ि एनएसए अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) भी पौड़ी गढ़वाल के गिरी बनेलसुन गांव के रहने वाले हैं.

[embedded content]

सीडीएस पद पर अन‍िल चौहान के नाम की घोषणा के तुरंत बाद से उनके गाँव में जश्न का माहौल बना हुआ है. गांव में अभी उनके रिश्तेदार रहते हैं. उनके चचेरे भाइयों और रिश्तेदारों द्वारा एक दावत का भी आयोजन किया गया था. बताया जाता है क‍ि नवनियुक्त सीडीएस का देहरादून के वसंत विहार इलाके में भी एक घर है. इस घर में उनके 94 वर्षीय पिता रहते हैं.

Tags: CDS, CDS General Bipin Rawat, Chief of Defence Staff, NSA Ajit Doval

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *