एमपी में घुसकर महाराष्ट्र पुलिस ने मारा छापा, गाड़ी के निचले हिस्से में छुपा रखा था 3 क्विंटल चंदन

बड़वानी. बड़वानी जिले के सेंधवा में पुलिस ने चंदन तस्करी के बड़े रैकेट का खुलासा किया है. फिल्म पुष्पा की स्टाइल में सारा खेल हुआ. महाराष्ट्र पुलिस ने चंदन का तेल बनाने वाली फैक्ट्री में दबिश देकर ये रैकेट पकड़ा. गाड़ी के बेसमेंट में पार्टीशन बनाकर बेशकीमती चंदन की लकड़ी की तस्करी की जा रही थी. महाराष्ट्र पुलिस का दावा है कि इसके पीछे कोई अंतर्राष्ट्रीय  रैकेट हो सकता है. फैक्ट्री मैनेजर सहित अन्य को महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

सेंधवा ग्रामीण थाना अंतर्गत ग्राम गवाड़ी में एबी रोड पर चंदन फैक्ट्री में महाराष्ट्र राज्य के नंदूरबार जिले की नवापुर थाना पुलिस ने दबिश देकर हैरान करने वाला खुलासा किया. नवापुर थाना प्रभारी ज्ञानेस्वर के अनुसार उनके क्षेत्र में एक मंदिर से चंदन पेड़ की चोरी के बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था लेकिन वो पांच आरोपी लॉकअप तोड़कर फरार हो गए थे. पुलिस ने भागे आरोपियों में से दो को वापस गिरफ्तार कर जब उनसे से सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने गवाडी की चंदन ऑयल फैक्ट्री का सुराग दिया था. साथ ही पुलिस को चैलेंज किया कि अगर वो वहां पहुंच भी गयी तो तस्करी के खेल को समझ नहीं पाएगी.

गाड़ी के पार्टीशन में 3 क्विंटल लकड़ी
पुलिस ने आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने हैरान करने वाला खुलासा कर उन गाड़ियों की जानकारी दी जिनमें तस्करी होती है. पुलिस ने मीलों दूर तक इन गाड़ियों की ट्रैकिंग करते हुए गवाड़ी स्थित फैक्ट्री पर पहुंची. यहां फैक्ट्री मैनेजर ने दरवाजा नहीं खोला. पुलिस  दीवार फांद कर फैक्ट्री के अंदर पहुंची तो उसे वहां एक गाड़ी खड़ी मिली. पुलिस ने गाड़ी के बेसमेंट को एक पाने से खोला तो बेसमेंट में दो पार्टिशन में निकले जिसमे 3 क्विंटल कीमती चंदन की लकड़ी रखी थीं.इसका मूल्य तकरीबन 5 लाख 82 हजार है. साथ ही 32 किलो चंदन का तेल भी निकला. इसका मूल्य 19 लाख रूपए होने का अनुमान है.

ये भी पढ़ें- सहेलियों से छेड़छाड़ का विरोध करने पर बदमाशों ने की युवा व्यवसायी की हत्या, 6 आरोपी गिरफ्तार

अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का हाथ!
पुलिस के अनुसार कुल मशरुका 30 लाख रूपए का बरामद हुआ है. चंदन की तस्करी का जाल महाराष्ट्र गुजरात और मप्र में फैला हुआ है. साथ ही कर्नाटक बॉर्डर से लगे महाराष्ट्र के इलाकों से माल की तस्करी की सूचना भी मिली है. पुलिस का कहना है इसके मालिक  बाहर रहते हैं. यह तेल चूंकि विदेशों में सप्लाई होता है इसलिए इसमें अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का भी हाथ हो सकता है. पुलिस ने फिलहाल ड्राइवर, हेल्पर और सिटी मैनेजर को हिरासत में ले लिया है. पुलिस का कहना है इनकी मोबाइल लोकेशन और पूछताछ के हिसाब से आगे और कार्रवाई की जाएगी. महाराष्ट्र पुलिस को इस मामले में बड़े खुलासे की उम्मीद है.

स्थानीय पुलिस क्या कर रही है
बड़ा सवाल यह है कि यह फैक्ट्री यहां कितने वर्षों से चल रही है. लेकिन स्थानीय पुलिस और वन विभाग को क्या बिल्कुल भी भनक नहीं थी. महाराष्ट्र पुलिस जब आकर यहां पर इतना बड़ा खुलासा कर रही है तो स्थानीय पुलिस और वन विभाग आखिर कर क्या रहा था.

Tags: Madhya Pradsh News, Smuggling, Wood smuggler arrested

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *