केंद्रीय मंत्री Prahlad Joshi ने कांग्रेस पर साधा निशाना, राहुल गांधी को दिया चैलेंज

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में पहली बार कैबिनेट का विस्तार (Modi Cabinet Expansion) किया गया और इस दौरान कुल 43 मंत्रियों ने शपथ ग्रहण किया. मंत्रिमंडल विस्तार के अगले ही दिन ज्यादातर मंत्रियों ने कार्यभार संभाल लिया है. इस बीच संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी (Pralhad Joshi) ने कांग्रेस और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधा है.

प्रहलाद जोशी ने कांग्रेस के हमले का दिया जवाब

संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी (Pralhad Joshi) ने कांग्रेस के उस हमले का जवाब दिया है, जिसमें कांग्रेस ने कहा था कि सरकार का इंजन खराब है, लेकिन डिब्बे बदल रहे हैं. जोशी ने कहा, ‘इंजन किसका खराब है, किसके डिब्बे खराब हैं और डिब्बा पूरा खराब पड़ा है, सभी जानते हैं. दो बार बहुत बड़े-बड़े इंजन अपने आप को बहुत फेमस इंजन समझते थे और बड़े-बड़े डिब्बे चिदंबरम जैसे डिब्बे यह सब खाली हो गए. यह अपने लेवल की बात करते हैं.’

प्रहलाद जोशी ने राहुल गांधी को दी चुनौती

प्रहलाद जोशी (Pralhad Joshi) ने कहा, ‘राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सिर्फ ट्वीट ही करते हैं, वह काम क्या करते हैं. ऐसा मुझे कोई एक काम बता दें, जो वह करते हो. यदि ट्वीट होने के तुरंत बाद राहुल गांधी से आप संपर्क करो और उनसे पूछो कि आपने क्या ट्वीट किया है? अगर वह यह बता दें तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा.’

ये भी पढ़ें- 30 साल बाद मोदी सरकार ने दोहराया इतिहास, ज्योतिरादित्य को मिली पिता की कुर्सी!

मंत्रालय को समझने के बाद तय होगी प्राथमिकताएं: रावसाहेब दादाराव

रावसाहेब दादाराव ने रेल मंत्रालय में राज्य मंत्री की जिम्मेदारी संभालने के बाद कहा, ‘मैंने आज रेलवे का चार्ज लिया है, पहले पूरे मंत्रालय को समझूंगा. दो अन्य मंत्रालयों में भी मैंने राज्य मंत्री का चार्ज लिया है, सबकी जानकारी लूंगा और उसके बाद प्राथमिकताएं तय करूंगा. यह बात ठीक है कि रेल मंत्रालय (Rail Ministry) जनता से जुड़ा हुआ मंत्रालय है और सभी मंत्रालयों की अलग-अलग जरूरतें हैं.’

प्रैक्टिकली काम करने में ज्यादा विश्वास रखता हूं: विरेंद्र कुमार

सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री विरेंद्र कुमार (Virendra Kumar) ने कहा, ‘इस मंत्रालय का दायित्व समाज के उस तबके के लिए है, जो वास्तव में जरूरतमंद लोग हैं. उनके लिए काम करने का मौका इस विभाग के माध्यम से मिला है.’ उन्होंने कहा, ‘मैं प्रैक्टिकली काम करने में ज्यादा विश्वास रखता हूं. मैं समाज के साथ संवाद करने में हमेशा अग्रणी रहा हूं. आज मैं बहुत खुश हूं कि जिस मंत्रालय का दायित्व मुझे दिया गया है कि मैं ऐसे लोग के बीच में प्रशासनिक जिम्मेदारी के साथ जाऊंगा और काम करने का मौका मिलेगा.

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय में राज्य मंत्री प्रतिमा भौमिक (Pratima Bhomik) ने कहा, ‘महिलाओं को अच्छा सम्मान दिया गया है और मुझे इसका प्रतिनिधित्व दिया गया है. हम अपने प्रधानमंत्री को प्रणाम करते हैं और धन्यवाद करते हैं कि उन्होंने हम लोगों पर भरोसा रखा हैं. इसको आगे लेकर जाएंगे.’

लाइव टीवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *