गाय के गोबर से बने घरों पर परमाणु विकिरण का प्रभाव नहीं…कोर्ट की बड़ी टिप्पणी, बताए कई फायदे

हाइलाइट्स

गुजरात के तापी जिले की व्यारा कस्बे की अदालत की गाय को लेकर बड़ी टिप्पणी
कोर्ट ने गौ रक्षा पर दिया जोर
गाय के फायदे बताते हुए गौ हत्या को सभ्य समाज मे अपमान बताया

नई दिल्ली: गुजरात (Gujarat) की एक अदालत (Court) ने गायों (Cow) की रक्षा पर जोर देते हुए बड़ी टिप्पणी की है. गुजरात के तापी जिले (Tapi) के व्यारा कस्बे की एक सत्र अदालत के न्यायाधीश ने देश में गायों (Cow) की रक्षा करने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा कि ‘‘विज्ञान ने साबित कर दिया है कि गाय के गोबर से बने घर परमाणु विकिरण से अप्रभावित रहते हैं.’’ इस दौरान न्यायाधीश ने गाय के पालने के फायदे बताते हुए उनके संरक्षण पर जोर देने कि बात भी कही.

न्यायाधीश ने कहा कि गाय के गोबर से बने घर पर परमाणु विकिरण का कोई प्रभाव नहीं पड़ता. आपको बता दें कि विभिन्न कानूनों का उल्लंघन कर गायों और बैलों को गुजरात से महाराष्ट्र ले जाने के दोषी 22 वर्षीय व्यक्ति को तापी जिला सत्र न्यायाधीश समीर व्यास ने पिछले साल नवंबर में उम्रकैद की सजा सुनाते हुए यह बात कही थी. उन्होंने कहा था कि गाय के गोबर से बने घरों में रहने वाले लोग परमाणु विकिरण की स्थिति में प्रभावित नहीं होंगे, जबकि गोमूत्र से कई असाध्य रोग ठीक हो सकते हैं. आदेश हाल में उपलब्ध कराया गया है.

देसी गाय पालने से होगा मोटा मुनाफा! अब यूनिवर्सिटी में बीटेक-एमबीए के छात्र ऐसे सीखेंगे तरीका

गाय के फायदे बताए
अपने आदेश में न्यायाधीश समीर व्यास ने गायों के वध पर नाराजगी व्यक्त की और कहा कि गाय ‘‘हमारी माता’’ है न कि यह केवल एक जानवर. अदालत ने आदेश में उल्लेख किया, ‘‘धरती की सारी समस्याएं उस दिन सुलझ जाएंगी जिस दिन धरती पर गाय के खून की एक बूंद भी नहीं गिरेगी. हम गौ रक्षा की बात करते हैं, लेकिन इसे धरातल पर लागू नहीं किया जा रहा है. गोहत्या और अवैध परिवहन की घटनाएं नियमित रूप से हो रही हैं. यह एक सभ्य समाज के लिए अपमान की बात है.’’

<youtubeembed cat="nation" creationdate="January 24, 2023, 06:56 IST" title="गाय के गोबर से बने घरों पर परमाणु विकिरण का प्रभाव नहीं…कोर्ट की बड़ी टिप्पणी, बताए कई फायदे" src="https://www.youtube.com/embed/6yy7fx3-OWE" item="” isDesktop=”true” id=”5269297″ >

न्यायाधीश ने कहा कि भारत को आजादी मिले 75 साल बीत चुके हैं, लेकिन गोहत्या की घटनाएं कम होने के बजाय बढ़ रही हैं. इस दौरान उन्होंने गाय के कई फायदे भी बताए. उन्होंने कहा कि ‘‘गाय धर्म का प्रतीक है. गाय आधारित जैविक खेती से उगाए गए खाद्य पदार्थ हमें कई बीमारियों से बचाते हैं. विज्ञान ने साबित कर दिया है कि गाय के गोबर से बने घर परमाणु विकिरण से अप्रभावित रहते हैं और गोमूत्र से कई असाध्य रोग ठीक हो सकते हैं.’’

(भाषा से इनपुट के साथ)

Tags: Court, Cow, Gujarat news, Nuclear Device

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *