दिल्‍ली: गणतंत्र दिवस परेड में BSF की ऊंटसवार टुकड़ी में पहली बार शामिल होंगी महिला कर्मी

हाइलाइट्स

गणतंत्र दिवस परेड में BSF की ऊंटसवार टुकड़ी में महिला कर्मी भी होंगी
ऊंटसवार टुकड़ी में पहली बार महिला कर्मी होंगी शामिल
BSF की प्रसिद्ध ऊंटसवार टुकड़ी 1976 से शामिल हो रही

नई दिल्ली. अगले साल यहां गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) में सीमा सुरक्षा बल (BSF) की ऊंट सवार टुकड़ी में पहली बार बल की महिला कर्मी, पुरुष जवानों के साथ भाग लेंगी. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी. सीमा सुरक्षा बल की प्रसिद्ध ऊंटसवार टुकड़ी 1976 से गणतंत्र दिवस समारोहों का हिस्सा रही है. इससे पहले तक सेना की इसी तरह की टुकड़ी इसमें भाग लेती थी. इसमें बीएसएफ के सशस्त्र जवान और बैंड के सदस्य शामिल होंगे. वे कर्तव्य पथ (पहले राजपथ) पर पैदल मार्च में भाग ले रही टुकड़ी के पीछे चलते हैं.

उन्होंने कहा, ‘यह अनेक जिम्मेदारियों में हमारी महिला कर्मियों की बढ़ती भूमिका का संकेतक है.’ बीएसएफ देश का एकमात्र बल है जो अभियान और समारोह दोनों ही मोर्चों पर ऊंटों का उपयोग करता है. बीएसएफ के जवान राजस्थान में थार रेगिस्तान से लगी भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गश्त के लिए ऊंटों का इस्तेमाल करते हैं.

गौरतलब है कि बीएसएफ के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह के निर्देश पर 15 महिला कर्मियों को ऊंट सवार टुकड़ी में शामिल होने का प्रशिक्षण दिया गया है. देश में महिला जवानों का पहला ऊंट जत्‍था राजस्‍थान के खाजूवाला में 25 सितंबर को लॉन्‍च किया गया था. यही जत्‍था गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने दिल्‍ली जाएगा.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

Tags: BSF, Republic Day Parade

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *