दिल्ली: FB live पर सुसाइड कर रहा था व्यक्ति, फेसबुक ने डीसीपी को किया फोन, पुलिस ने बचाई जान

नई दिल्ली: फेसबुक की सतर्कता और दिल्ली पुलिस के डीसीपी के फौरन एक्शन ने एक शख्स को आत्महत्या करने से बचा लिया. अगर 5 मिनट की देरी हो जाती तो शायद ही शख्स को बचा पाना संभव हो पाता. अब उस व्यक्ति का अस्पताल में इलाज चल रहा है. 

दिल्ली का है पूरा मामला

ये पूरा मामला दिल्ली का है. दिल्ली के CyPAD के डीसीपी अन्यवेश रॉय ने बताया कि 3-4 मई की रात करीब 12.50 बजे उनके फोन पर फेसबुक के ऑफिस से कॉल आया कि एक शख्स हाथ काटकर सुसाइड की कोशिश करते हुए लाइव कर रहा है. जिसका वीडियो आपके पास भेज दिया गया. ये सुनते ही डीसीपी की नींद उड़ गई और उन्होंने तभी एसीपी आदित्य गौतम के साथ अपने स्टाफ को सूचना देते हुए उसकी ट्रेसिंग के लिए कहा.

पालम गांव का निकला पता

रॉय ने बताया कि उसका पता दिल्ली के सेक्टर 6 पालम गांव का मिला. करीब 20 मिनट बाद ही पुलिस उस तक पहुंच गई. जिसके बाद पुलिस ने देखा कि वो अपने हाथ की नस काट चुका था. उसका खून लगातार बह रहा था. तभी आनन-फानन में उसे पास के अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे दिल्ली के एम्स ट्रॉमा सेंटर भेज दिया. जहां उसके हाथ की सर्जरी कर उसकी जान बचाई गई. 

पांच मिनट की देरी होती तो.. 

डॉक्टरों ने पुलिस को बताया कि अगर 5 मिनट की देरी होती तो शायद इनको बचा पाना मुश्किल होता. क्योंकि शरीर से ज़्यादा खून बह चुका था. इसके बाद पालम गांव थाने की पुलिस ने जांच शुरू की.

पड़ोसी से हुआ था विवाद

पुलिस को पता चला कि सुसाइड की कोशिश करने वाले शख्स का नाम हीरा लाल (39) जो कि मिठाई की दुकान चलाता है. हीरा लाल की पत्नी की साल 2016 में मौत हो चुकी है. हीरा लाल के दो बच्चे हैं. जानकारी के मुताबिक हीरा लाल का सुसाइड की कोशिश से पहले पड़ोसी से झगड़ा हो गया था. पत्नी की मौत के बाद से वो डिप्रेशन में चल रहा था. 

डीसीपी की हो रही तारीफ

डीसीपी अन्यवेश रॉय के इस फौरन एक्शन से एक शख्स की जान बच पाई. जिसकी तारीफ अब पूरा पुलिस डिपार्टमेन्ट कर रहा है. वहीं पुलिस अधिकारी ये भी कहना हैं, आत्महत्या करना समस्या का हल नहीं है. इसलिए परिवार के लोगों से बातें करें. ज्यादा से ज्यादा बातों को आपस में साझा करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *