पाकिस्तान ड्रोन से भारत को दहलाने की रच रहा साजिश, 2 सालों में 60 किलो विस्फोटक बरामद, निशाने पर चुनिंदा टारगेट

हाइलाइट्स

पिछले 2 सालों के दौरान 300 बार ड्रोन देखे गए और 25 से ज्यादा को मार गिराया गया
2 सालों में पाकिस्तान ने ड्रोन के जरिए करीब 60 किलो विस्फोटक भारत में ड्राप करवाए
कई ड्रोन में एक साथ ड्रग्स और एक्सप्लोसिव डिवाइस भी बरामद हुए हैं

नई दिल्ली. पाकिस्तान भारत में लगातार खून खराबा करने की अपनी नापाक कोशिशों से बाज नहीं आ रहा है. सीमा पर पहरा दे रहे सुरक्षा जवानों से लगातार मुंह की खाने के बाद अब पड़ोसी मुल्क ड्रोन के जरिए विस्फोटक भेजने के प्रयास में लगा हुआ है. पिछले दो साल के दौरान पाकिस्तान सीमा (Pakistan Border) से लगभग 60 किलो विस्फोटक भारत में गिराने की कोशिश की जा चुकी है. ये चौंकाने वाली जानकारी भारत में मार गिराए गए ड्रोन (drones) की तफ्तीश कर रही जांच एजेंसियों की जांच में सामने आई है. खतरनाक विस्फोटक से भारत को लगातार दहलाने की फिराक में जुटे पाकिस्तान के ज्यादातर ड्रोन में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस और प्रोग्रामेबल डिवाइस बरामद किए गए हैं. जांच में ये भी पता चला है कि ये विस्फोटक काफी तबाही मचा सकते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक भारत-पाकिस्तान सीमा जम्मू सेक्टर और पंजाब सेक्टर में पिछले 2 सालों के दौरान 300 बार ड्रोन देखे गए और 25 से ज्यादा ड्रोन को मार गिराया गया. 2 सालों में पाकिस्तान ने ड्रोन के जरिए करीब 60 किलो विस्फोटक भारत में ड्राप करवाए हैं. इन विस्फोटकों में ज्यादातर आरडीएक्स (RDX) हैं जो सबसे ज्यादा मारक होता है. खास बात ये है कि विस्फोटकों के साथ बड़ी तादाद में एक्सप्लोजिव डिवाइस भी बरामद किए गए हैं जो परत दर परत पाकिस्तानी चाल की पोल खोलते हैं.

RDX के साथ ड्रग्स भी कर रहा सप्लाई
सिर्फ RDX ही नहीं पाकिस्तान लगातार भारतीय युवाओं को नशे की ओर धकेलने के लिए ड्रग्स (Drugs) की सप्लाई भी कर रहा है. कई ड्रोन में एक साथ ड्रग्स और एक्सप्लोसिव डिवाइस भी बरामद हुए हैं. इन डिवाइस में मैग्नेटिक आईडी विद टाइमर भी शामिल है जो प्रोग्रामेबल हैं. यानी ऐसे एक्सप्लोजिव डिवाइस जिनसे खास टार्गेट को ही निशाना बनाया जाता है. खुफिया एजेंसियों के अनुसार ऐसे डिवाइस की मदद से ISI भारत में कुछ चुनिंदा टारगेट पर भारी तबाही मचाने का प्लान बनाये हुए है.

आपको बता दें कि भारतीय सीमा में तबाह किए गए ड्रोन की जांच अलग-अलग एजेंसियां कर रही हैं जिसमें पंजाब पुलिस, बीएसएफ और फोरेंसिक लैब शामिल हैं. जांच एजेंसियों की तफ्तीश में ये भी सामने आया है कि काले और सफेद रंग के विस्फोटकों को पाकिस्तान ड्रोन से भारत में ड्राप कराता है जो बेहद खतरनाक होते हैं. उन्हे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई पाकिस्तान की अलग-अलग आर्डिनेंस फैक्ट्री से इकट्ठा करती है. हालांकि सुरक्षा एजेंसियां अब इस बात की जांच कर रही हैं कि विस्फोटकों के जरिए पाकिस्तान का हाई वैल्यू टार्गेट कौन है.

Tags: Bomb Blast, Drone, India, Isi, Pakistan, नशा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *