मिसाल बनी हेबा, गीता को उर्दू में किया ट्रांसलेट; कुरान के साथ इसकी 'समानता' पर लिखी किताब

हाइलाइट्स

तेलंगाना की एक मुस्लिम महिला ने भगवद गीता का उर्दू में अनुवाद किया है.
हेबा ने एक सरल भाषा में ‘भगवद गीता और कुरान के बीच समानता’ नामक एक पुस्तक लिखी है.
फातिमा एमए (अंग्रेजी) की छात्रा हैं.

रिपोर्ट- पी महेंद्र

निजामाबाद. धार्मिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए एक उदाहरण स्थापित करते हुए तेलंगाना की एक मुस्लिम महिला ने हिंदू धर्मग्रंथ के सबसे प्रतिष्ठित पवित्र ग्रंथ भगवद गीता का उर्दू में अनुवाद किया है. तेलंगाना के निजामाबाद जिले के बोधन शहर के राकासी पेट इलाके की मूल निवासी हेबा फातिमा ने एक सरल भाषा में ‘भगवद गीता और कुरान के बीच समानता’ नामक एक पुस्तक लिखी. उन्हें अब सभी धर्मों के लोगों से सराहना मिली रही है.

फातिमा एमए (अंग्रेजी) की छात्रा हैं. उन्होंने उर्दू माध्यम में इंटरमीडिएट तक की शिक्षा पूरी की और अंग्रेजी माध्यम से स्नातक की पढ़ाई पूरी की. उनके पिता आमेड खान कस्बे में एक छोटे व्यापारी हैं. अन्य धर्मों के बारे में जानने की जिज्ञासा के कारण उन्होंने भगवद गीता का अध्ययन करने का फैसला किया. उन्होंने तीन महीने के भीतर भगवद गीता के 18 अध्यायों के कुल 700 श्लोकों का उर्दू में अनुवाद किया.

CNN-News18 से बात करते हुए, फातिमा ने कहा है कि कुछ शब्दों का सही अर्थ जानने में उन्हें बहुत समय लगा. उन्होंने आगे कहा कि उन्होंने भगवद गीता में 500 श्लोकों और कुरान में 500 छंदों को एक ही अर्थ के साथ पहचाना. फातिमा ने कहा कि उन्होंने भगवद गीता का उर्दू में एक सरल भाषा में अनुवाद किया जिससे पाठक आसानी से जीवन जीने का तरीका समझ सकें.

पढ़ें- प्रेमी संग कुत्ता बनकर रहती है लड़की, गले में पट्टा बांधकर घुमाता है बॉयफ्रेंड, ऐसे अजीब शौक ने किया दंग

वह यूट्यूब चैनल ‘मैसेज फॉर ऑल बाय हेबा फातिमा’ भी चला रही हैं. इसमें वह उर्दू में भगवद गीता की व्याख्या करती हैं. वह अब तक चैनल पर 100 वीडियो अपलोड कर चुकी हैं. उनका नाम वर्ल्ड वाइड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, नोटल बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, हाई रेंज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, मार्वलस बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, तेलुगु बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और मैजिक बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज हो चुका है.

Tags: Bhagwat Geeta, Muslim Woman, Telangana

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *