मुरादाबाद में सफ़र होगा आसान! ऐप बताएगा कहां लगा जाम, UP पुलिस का यह है प्लान…

पीयूष शर्मा

मुरादाबाद. लगातार तकनीकी को आत्मसात कर हाइटेक हो रही उत्तर प्रदेश पुलिस अब ट्रैफिक अलर्ट भी देगी. इसके लिए मुख्यालय स्तर पर पुलिस ने मैप माई इंडिया के साथ एमओयू (मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग) साइन किया है. इसके बाद कोई भी व्यक्ति अपने मोबाइल फोन पर ट्रैफिक अपडेट प्राप्त कर उसके अनुसार अपनी यात्रा की योजना बना सकेगा. अक्सर जानकारी के अभाव में यात्रा के दौरान लोग नेशनल हाइवे, स्टेट हाइवे या शहर के अंदर की सड़कों पर जाम में फंस जाते हैं. इससे उनका काफी समय बर्बाद होता है. मोबाइल में मौजूद कई ऐप रास्ता बताते हैं, लेकिन उनमें जाम, निर्माण कार्य आदि की सूचनाएं नहीं दिखती है.

यूपी पुलिस ने नागरिकों को सुरक्षित यातायात व्यवस्था देने के लिए मैप माई इंडिया के साथ एक समझौता किया है. इससे लोगों को मोबाइल में मैपल्स एप डाउनलोड करने के बाद तमाम ट्रैफिक अलर्ट मिलेगा. यह मैप रास्ता बताने के साथ ही यह भी बताएगा कि कहां जाम लग रहा है. या कहां पर निर्माण कार्य के कारण रास्ता बंद है. कोई व्यक्ति जिस सड़क से जा रहा है. उसमें वाहन चलाने की अधिकतम गति सीमा, दुर्घटना संभावित क्षेत्र, तेज मोड़, स्पीड ब्रेकर, गड्ढे आदि के बारे में भी जानकारी इस एप पर मिलेगी. इतना ही नहीं, कोई भी व्यक्ति इस ऐप के माध्यम से सड़क के गड्ढे, हादसे या जाम की सूचना भी देख सकेगा. इसके लिए केवल उस ऐप पर अपनी आईडी बनानी होगी.

मार्ग की सभी जानकारी मिलेगी

मैपल्स ऐप की मदद से जुलूस, विरोध-प्रदर्शन, रैलियां, वीआईपी मूवमेंट, सड़क बंद, डायवर्जन आदि का अलर्ट पुलिस दे सकेगी. ब्लैक स्पॉट, खतरनाक मोड़, स्पीड लीमिट, दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र आदि सड़क सुरक्षा से संबंधित सूचनाएं भी ऐप के माध्यम से दी जाएंगी. मैप पर कोई भी व्यक्ति सड़क बाधित होने, कहीं जाम या निर्माण कार्य के कारण मार्ग बाधित होने पर ऐप वैकल्पिक रास्तों की भी जानकारी देगा.

ऐप से आसानी से मिलेगी जानकारी

ऐप पर वॉइस नेविगेशन के साथ आवश्यक अलर्ट ले सकेंगे जिससे अपने गंतव्य तक आसानी से पहुंच सकेंगे. ऐप के माध्यम से गति, पार्किंग क्षेत्र, जलभराव, सड़क की स्थिति और खतरे, ग्रिड लॉक, ट्रैफिक लाइट की विफलता, दुर्घटना आदि की रिपोर्ट जैसे यातायात से संबंधित मुद्दों की जानकारी दे सकेंगे. आपातकालीन सेवाओं के लिए घटना स्थल/गंतव्य तक पहुंचने के लिए घटना स्थान ट्रैकिंग और सबसे तेज मार्ग विकल्प देख सकते हैं.

सिटीजन सेंटर को मिलेगी बेहतर टेक्नोलॉजी

मुरादाबाद रेंज के डीआईजी शलभ माथुर ने बताया कि डीजी मुख्यालय स्तर से ट्रैफिक डिपार्टमेंट के द्वारा एक एमओयू साइन हुआ है मेक माय इंडिया का. जिसमें रेंज से राजपत्रित अधिकारी आए थे. ट्रैफिक के लोग शामिल थे. इसके साथ ही हम ट्रैफिक को कैसे व्यवस्थित, सुगम और कंट्रोल कर सकते हैं इसके लिए इसमे एक इंटरफेस का ऑप्शन दिया गया है. इसके माध्यम से पुलिसकर्मियों को शहर की गतिविधि की सूचना दी जा सकती है. हमें पूरा विश्वास है कि इस तरह की टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से हम सिटीजन सेंटर को टेक्नोलॉजी देने में बेहतर साबित होंगे.

Tags: Moradabad News, Traffic Alert, Up news in hindi, UP Police Alert

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *