'याचिकाकर्ता अपनी दलील खत्म करें, हमारा धैर्य जवाब दे रहा…', हिजाब विवाद पर सुप्रीम कोर्ट की सलाह

नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने कर्नाटक (Karnataka) हिजाब प्रतिबंध विवाद (Hijab Ban contraversy) में बुधवार को याचिकाकर्ताओं से कल एक घंटे के भीतर अपनी दलीलें खत्म करने की सलाह देते हुए कहा कि वह अपना धैर्य खो रहा है. नौवें दिन मामले की सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने कहा कि वह याचिकाकर्ताओं के वकीलों को बृहस्पतिवार को अपनी दलीलें समाप्त करने के लिए सिर्फ एक घंटे का समय देगी.

न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता और न्यायमूर्ति सुधांशु धूलिया की पीठ ने याचिकाकर्ताओं में से एक के लिए पेश वरिष्ठ अधिवक्ता हुजेफा अहमदी से कहा, ‘‘हम आप सभी को एक घंटे का समय देंगे. आप इसे खत्म कर दें. अब, यह सुनवाई का ‘ओवरडोज’ है.’’

महाराष्ट्र में केमिस्ट की हत्या मामले में एक और गिरफ्तार, अब तक 11 लोगों की गिरफ्तारी

पीठ ने कहा कि कई वकील पहले ही उसके सामने अपनी दलीलें रख चुके हैं. इसने कहा, ‘‘हम अपना धैर्य खो रहे हैं.’’ अहमदी ने पीठ की प्रशंसा करते हुए कहा, ‘‘मुझे अवश्य कहना चाहिए कि आपने  हमें बेहद धैर्य के साथ सुना है.’’

[embedded content]

पीठ ने हल्के फुल्के अंदाज में कहा, ‘‘क्या आपको लगता है कि हमारे पास कोई और विकल्प है?’’ सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता और कर्नाटक के महाधिवक्ता प्रभुलिंग के. नवदगी और अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के एम नटराज ने राज्य सरकार की ओर से दलील दी, जबकि वरिष्ठ वकीलों दुष्यंत दवे और सलमान खुर्शीद ने मुस्लिम याचिकाकर्ताओं का पक्ष रखा।

Tags: Hijab controversy, Karnataka, New Delhi, Supreme Court

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *