योग है सबके लिए : जानिए वे 4 कारण जो आपके लिए योगाभ्यास मुश्किल बना रहे हैं

योग में महारत हासिल करने में समय लगता है, इसलिए खुद को परेशान न करें। धैर्य रखने के अलावा, आप कुछ सुझावों का पालन कर अपने योगाभ्यास को आसान बना सकती हैं।

इस स्थिति को समझने के लिए आपको एक कहानी सुनाते हैं। एक लड़की अपनी पहली योग कक्षा में जाती है। कक्षा की शुरुआत में, पहले कुछ बेसिक योग आसन उसके लिए आसान रहे, क्योंकि वो हल्के योगासन करती है इसलिए वह आत्मविश्वास महसूस करती है। लेकिन बाद में प्रशिक्षक अन्य मुद्राओं को जोड़ना शुरू करते हैं।

जिसके लिए अधिक लचीलेपन की आवश्यकता होती है। वे अपनी योगा क्लास में कमरे के चारों ओर देखती है, वो देखती है कि बाकी सभी को कोई परेशानी नहीं है। जब वो उस विशेष मुद्रा को कर रही होती हैं, तब तक बाकी सभी अगले आसन पर मूव कर जाते हैं। वो कक्षा के साथ बने रहने की कोशिश करती है, पर जब वो इसमें नाकाम होती है, तो कक्षा छोड़ने का निर्णय लेती हैं और ये क्लास उसकी पहली और आखिरी क्लास होती है।

यदि आपके मन में कभी ये विचार आया है कि योग आपके लिए नहीं है या आप अपना अभ्यास ठीक से नहीं कर पा रही हैं, तो हो सकता है कि आपको योगासनों को लेकर संदेह हो। पर ऐसा नहीं है। योग सभी के लिए है, बस आपको उन कारणों को समझने की जरूरत है, जो आपके योगाभ्यास में बाधा बन रहे हैं।

ये रहे कुछ कारण जिस कारण आप योग मुद्राएं नहीं कर पाती हैं:

1. आप गलत तरह से सांस ले रही हैं

आप इसका पता तब लगा सकती हैं, जब आप अपनी सांस को मुद्रा में रखते हुए रोक रही हों। जब आप अपनी सांस रोक रही होती हैं, तो आप अपनी मांसपेशियों को भी कस रही होती हैं। और ये योग के विपरीत है। अपने पेट से सांस लेने की कोशिश करें।
जब आप एक मुद्रा धारण कर रही हों, तो शरीर में किसी भी तरह का तनाव नहीं होना चाहिए। शरीर से गहरी सांस लें और बाहर छोड़ें। अपनी छाती का उपयोग करके सांस लेने की कोशिश न करें। ऐसा करने से आप बहुत जल्दी थक जाएंगी।

सांस लेने की कला सीखो! चित्र : शटरस्‍टॉक

इसे भी पढ़ें-अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : ये 5 आसन उनके लिए जो हमेशा जल्‍दी में रहती हैं

2. आप ‘आदर्श’ मुद्रा से अपनी तुलना कर रही हैं

आप जो तस्वीरें देखती हैं और ये सोचती है कि बाकी सभी इसे कैसे कर पा रहे हैं, तो उनसे तुलना करना बंद करें। हर कोई अलग होता है और हर किसी के पास अलग-अलग क्षमताएं होती हैं। कई लोग अक्सर योगा करना ही छोड़ देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि वे ‘पर्याप्त रूप से लचीले’ नहीं हैं। किसी से अपनी तुलना न करें और वही करें जो आपके लिए सुविधाजनक हो।

3. आप अपनी मदद नहीं कर रहीं

प्रॉप्स की सहायता से व्यायम करना शानदार तरीका है – चाहे वो ब्लॉक, बोल्ट, योग बैंड, तकिए, कुर्सियां, कंबल आदि हों। हम देखते हैं कि जब ऑनलाइन कक्षाएं होती हैं, हम देखते है कि हर व्यक्ति के घर में उनके आसपास फर्नीचर या सामान होता है। हमारा मानना है कि उसका उपयोग करें। ऐसा करने से आपकी शरीर की मुद्रा बेहतर हो जाएगी। आपको वहीं करना चाहिए, जिसे करने में आपका शरीर सक्षम हो, लेकिन बता दें प्रॉप्स की सहायता से आपकी योग मुद्रा ठीक हो जाएंगी।

मानसिक स्वास्थ्य और ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है। चित्र: शटरस्टॉक

4. आप स्वयं के प्रति धैर्यवान नहीं हैं

“कुछ पाने के लिए आपको कहीं न कहीं से शुरुआत करनी होगी”। धैर्य रखें क्योंकि पहली बार में कक्षा लेने से आपका शरीर एकदम से लचीला और ताकतवर नहीं बन जाएंगा। इसलिए धैर्य के साथ अभ्यास करें और अनुशासित होने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें-इस फादर्स डे अपने पापा को दें योगाभ्यास का तोहफा, हम बता रहे हैं 6 आसान योगासन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *