राजू किसी की सुनते नहीं थे और बातों को छुपाते थे, श्रीवास्‍तव से जुड़े फैम‍िली डॉक्‍टर ने क‍िए कई खुलासे

हाइलाइट्स

डॉ विवेक ने उनसे जुड़ी हुई यादें न्यूज़ 18 के साथ शेयर की हैं.
डॉ विवेक गुप्ता ने बताया कि वह अक्सर राजू को जिम जाने और ट्रेडमिल पर दौड़ने के लिए मना करते थे

देश के जाने-माने कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव अब इस दुनिया में नहीं रहे और पीछे छोड़ गए हैं अपने से जुड़ी ढेर सारी यादें. उनके प्रशंसक उनके चाहने वाले उनके परिवार के लोग बहुत दुखी हैं. राजू श्रीवास्तव कानपुर के रहने वाले थे और कानपुर की गलियों में लोग उन्हें गजोधर भैया के नाम से जानते हैं. सबको हंसाने वाले राजू 58 साल की उम्र में इस तरह दुनिया को अलविदा कह देंगे यह किसी को अंदाजा नहीं था. लेकिन उनका जाना सभी के लिए शॉकिंग है, लेकिन उनका इस तरह जाना हमे एक सीख भी देता है, जो उनके डॉक्टर विवेक गुप्ता ने न्यूज 18 से बताया है.

डॉ विवेक गुप्ता दिल्ली के अपोलो अस्पताल में जाने-माने कार्डियोलॉजिस्ट हैं. राजू श्रीवास्तव पिछले 20 सालों से दवाइयां डॉ विवेक गुप्ता की सलाह पर ले रहे थे. ऐसे में दिल्ली में 7 अगस्त को यानी कि 10 अगस्त जिस दिन उन्हें एम्‍स अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उससे 3 दिन पहले वह डॉक्टर विवेक के घर पार्टी में पहुंचे थे. डॉक्टर विवेक ने उनसे पूछा भी कि आप ठीक है. आपकी सेहत ठीक है. राजू श्रीवास्तव ने कहा था कि हां सब कुछ ठीक है. डॉ विवेक ने उनसे जुड़ी हुई यादें न्यूज़ 18 के साथ शेयर की हैं.

डॉक्टर विवेक गुप्ता ने राजू श्रीवास्तव की एक कमी के बारे में खुलकर बताया कि राजू किसी की सुनते नहीं थे. अपनी बातों को छुपाते थे और डिस्कस नहीं करते थे. राजू श्रीवास्तव हार्ट की पेशेंट थे. ऐसे में डॉक्टर प्रदेश से हमेशा कंसल्ट करते थे और उनसे दवाइयां लेते थे. 7 अगस्त को जब राजू श्रीवास्तव डॉ विवेक के घर पार्टी में पहुंचे थे तो डॉक्टर ने उनसे उनका हालचाल पूछा तो उन्होंने उस दिन कहा कि सब कुछ ठीक है.

डॉ विवेक गुप्ता ने बताया कि वह अक्सर राजू को जिम जाने और ट्रेडमिल पर दौड़ने के लिए मना करते थे, क्योंकि राजू श्रीवास्तव हार्ट के पेशेंट थे. डॉक्टर ने बताया कि राजू श्रीवास्तव 5 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार में ट्रेडमिल पर दौड़ते थे जो एक यंग लड़के करते हैं. वह हार्ट के पेशेंट थे उनको कई बार समझाया जाता था कि वह जिम ना करें केवल नॉर्मल वॉक करें लेकिन वह ट्रेडमिल पर अक्सर बहुत तेज दौड़ा करते थे. यह एक बहुत बड़ा कारण है जो 10 अगस्त को हुआ. इसलिए जो भी हार्ट पेशेंट है वह कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें.

डॉ विवेक गुप्ता ने हार्ट के पेशेंट को दी सलाह
अगर कोई भी पेशेंट हार्ट की बीमारी से जूझ रहा है या फिर उसे हार्ट अटैक पहले आ चुका है तो ऐसी स्थिति में जिम का प्रयोग ना करें ट्रेडमिल पर तेजी के साथ ना दौड़े केवल नॉर्मल वॉक करें, हल्की एक्सरसाइज करें.

Tags: Delhi news, Raju Srivastav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *