लव जिहाद को आतंकवाद का नया रूप बता बोले गिरिराज सिंह- सनातन धर्म को खत्म करने की हो रही साजिश

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मंगलवार को लव जिहाद को आतंकवाद का नया रूप बताया. यूपी के गाजीपुर में एक कार्यक्रम के दौरान गिरिराज सिंह ने आरोप लगाया कि लव जिहाद रूपी आतंकवाद से भारत में सनातन धर्म को खत्म करने की घृणित साजिश हो रही है. उन्होंने कहा कि सनातन धर्म को मानने वालों को एकजुट होकर इस षडयंत्र को विफल करना चाहिए.

गिरिराज सिंह ने इस बात पर बल दिया कि जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की जरूरत है और ऐसा होता है तो देश का सर्वांगीण विकास होगा. दरअसल, जिला मुख्यालय से 22 किमी दूर मोहम्मदाबाद तहसील मुख्यालय पर शहीद पार्क में दिवंगत विधायक कृष्णानंद राय की पुण्यतिथि पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा को केंद्रीय मंत्री संबोधित कर रहे थे.

NRC, कॉमन सिविल कोड और जनसंख्या नियंत्रण कानून पर बोले पूर्व मंत्री गिरिराज-देश को धर्मशाला बना दिया है

उन्होंने कहा कि चीन में जहां प्रति मिनट 10 बच्चे पैदा होते हैं, वही भारत में प्रति मिनट 31 बच्चे पैदा हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा होने से विकास तेज गति से नहीं हो पा रहा है. यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार की तारीफ करते हुये उन्होंने कहा कि प्रदेश में गुंडाराज का सफाया किया जा रहा है और प्रदेश में रहने वाले अपराधियों का जीवन अब जेल में ही गुजरेगा.

बिहार में धर्मांतरण बड़ी तेजी से हो रहा है: गिरिराज
वहीं, पटना में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बिहार की महागठबंधन सरकार पर ‘केवल अपने मुस्लिम वोट बैंक की चिंता’ करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को दावा किया कि इस प्रदेश में धर्मांतरण बड़ी तेजी से हो रहा है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता गिरिराज सिंह ने देश में धर्मांतरण रोधी कठोर कानून की आवश्यकता पर जोर दिया और कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का उपहास उड़ाया. उन्होंने इस यात्रा के माध्यम से हिंदू समुदाय से ‘नफरत करने वालों को एकजुट करने की कोशिश करने’ का आरोप लगाया. सिंह ने कहा, ‘मुझे आश्चर्य है कि बिहार में हिंदुओं के बारे में कौन सोचेगा जहां सत्तारूढ़ महागठबंधन को केवल अपने मुस्लिम वोट बैंक की चिंता है और राज्य में बड़ी तेजी से हो रहे धर्मांतरण पर राज्य सरकार ने आंख मूंद रखी हैं.’

Tags: Conversion, Giriraj singh, Love jihad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *