सलीम-जावेद ने खूब कमाया पैसा, दोस्ती के बीच सुपरस्टार बन गया 'ग्रहण', एक झटके में बिखर गई जोड़ी

नई दिल्ली. स्क्रीन राइटर जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने अपने एक हालिया इंटरव्यू में अपने राइटर बनने की जर्नी को याद किया. इस दौरान जावेद अख्तर ने स्वीकार किया कि उन्हें स्क्रीन राइटर बनने के लिए सलमान खान के पिता सलीम खान (Salim Khan) ने काफी मोटिवेट किया था. बता दें कि 70 और 80 के दशक तक जावेद-सलीम की जोड़ी काफी फेमस थी. कहा जाता है कि जब यह जोड़ी किसी फिल्म में साथ आती थी, तो थियेटर हॉल तालियों से गूंज उठता था. आलम ये था कि दर्शक लंबे वक्त तक उस फिल्म के डायलॉग और कहानी भूल ही नहीं पाते थे. इस जोड़ी ने बतौर राइटर सिनेमा को करीब 22 फिल्में दीं.

दर्शकों को झटका तब लगा जब पता चला इस जोड़ी ने अपने रास्ते अलग कर लिए हैं. यह विश्वास करना उन दिनों लोगों के लिए बड़ी चुनौती थी लेकिन वक्त के साथ साथ सब वाकई में बदल गया. जोड़ियां तो खूब बनीं लेकिन जावेद-सलीम जैसी जोड़ी फिर कभी बॉलीवुड में नहीं देखी गई. मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया जा रहा था कि इस जोड़ी के टूटने के पीछे सबसे बड़ा कारण बॉलीवुड के बिग बी यानी अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) रहे हैं. अमिताभ बच्चन की वजह से सलीम-जावेद की जोड़ी टूटी थी.

सलीम-जावेद की इन फिल्मों में बिग बी ने किया काम
आपको ये जानकर यकीन नहीं होगा कि सलीम-जावेद की जोड़ी ने यूं तो कई हीरो के लिए फिल्में लिखीं, लेकिन उनकी लिखी गई फिल्मों में सबसे ज्यादा काम अमिताभ बच्चन ने किया. कहा जाता है कि जब सलीम-जावेद कोई फिल्म लिखते थे और उस फिल्म अमिताभ बच्चन काम करते थे, वो फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई करती थी. इसमें ‘शोले’, ‘जंजीर’, ‘दीवार’ ,’डॉन’ ‘त्रिशूल’ , ‘ईमान धरम’ , ‘काला पत्थर’ , ‘दोस्ताना’ , ‘शान’ , ‘शक्ति’ और ‘यादों की बारात’ जैसी हिट फिल्में शामिल हैं. कहा तो ये भी जाता है कि अमिताभ बॉलीवुड के सुपरस्टार सलीम-जावेद की वजह से ही बने थे. उनकी द्वारा लिखी गई फिल्म ‘जंजीर’ से ही अमिताभ रातों रात ‘एंग्री यंगमैन’ के अंदाज में छा गए थे. यह फिल्म साल 1973 में रिलीज हुई थी. फिल्म को डायरेक्टर प्रकाश मेहरा ने बनाया था.

जानिए क्या है वजह थी जोड़ी टूटने की वजह
फेमस जर्नलिस्ट अनिता पध्ये की मराठी बुक ‘यही रंग यही रूप’ सलीम-जावेद की जोड़ी को लेकर काफी कुछ लिखा गया है. इस किताब में इनकी दोस्ती बनने से लेकर टूटने तक का जिक्र है. इसी किताब में बताया गया है कि बॉलीवुड का पहला और आखिरी स्टार स्टेट्स राइटर की जोड़ी कैसे टूटी. इस किताब में लेखिका ने जोड़ी टूटने का बड़ा कारण अमिताभ बच्चन को बताया है.

‘मि. इंडिया’ को रिजेक्ट करना दोस्ती पर भारी
अनिता पध्ये ने अपनी किताब बताया है कि जब इस स्टार राइटर की जोड़ी ने ‘मि. इंडिया’ के लिए अमिताभ बच्चन को अप्रोच किया था, तो बिग बी को फिल्म की कहानी कुछ खास नहीं लगी थी. उन्होंने साफ शब्दों में इस फिल्म को करने से मना कर दिया था. मना करने के पीछे अमिताभ बच्चन ने हीरो का ‘गायब हो जाना’ और ‘सिर्फ अवाज सुनाई’ देना काफी अजीब लगा था. रिपोर्ट्स के अनुसार, दर्शक बड़े पर्दे पर उन्हें देखने आते हैं, ऐसे में भला कोई सिर्फ उनकी आवाज क्यों सुनना चाहेगा.

कामयाबी’ बनी दीवार, टूटी सलीम-जावेद जोड़ी, अब सालों बाद दोस्त को याद कर बोले Javed Akhtar- ‘हम नाकाम लोग…’

जावेद का फैसला सलीम को लगा बचकाना
अमिताभ बच्चन के मना करने के बाद सलीम-जावेद जहां शॉक्ड हुए थे, वहीं दोनों काफी उदास हो गए थे क्योंकि दोनों का लगता था अमिताभ की अवाज ही इस फिल्म के लिए बेस्ट है. किताब के अनुसार, अमिताभ के मना करने के बाद जावेद अख्तर ने फिर कभी अमिताभ संग काम नहीं करने का फैसला कर लिया, जबकि सलीम को जावेद का यह फैसला काफी बचकाना लगा. इसके साथ ही वह जावेद की इस बात के लिए दिल से तैयार नहीं हो पाए. हालांकि कुछ दिन बीतने के बाद जावेद अमिताभ की होली पार्टी में पहुंचे और उनसे कहा कि सलीम खान उनके साथ कभी काम नहीं करना चाहते.

जब ये बातें सलीम को पता चली तो उन्हें काफी दुख हुआ. जावेद-सलीम की इस गलतफहमी की वजह से जोड़ी में पहली बार दरारे आईं, जो कभी भर नहीं पाई. बता दें कि जब साल 1987 में मि. इंडिया फिल्म रिलीज हुई तो यह दर्शकों पर छा गई. हालांकि इस फिल्म में अमिताभ की जगह अनिल कपूर ने शानदार एक्टिंग कर दर्शकों का दिल जीत लिया था.

Tags: Amitabh Bachachan, Amitabh bachchan, Entertainment news., Entertainment Special, Javed akhtar, Salim Khan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *