Agnipath Recruitment 2022: 34 लाख से अधिक हुए रजिस्ट्रेशन, नेवी में 82000 से ज्यादा महिलाओं ने किया आवेदन

Agnipath Recruitment 2022: 34 लाख से अधिक हुए रजिस्ट्रेशन, नेवी में 82000 से ज्यादा महिलाओं ने किया आवेदन

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अग्निपथ योजना के तहत, भारतीय सेनाओं में 31,000 पदों की रिक्तियों के लिए 34 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं। 

भारतीय सेना में 25,000 रिक्तियों के लिए 17.17 लाख आवेदन, जबकि भारतीय वायु सेना में 3,000 रिक्तियों के लिए 7.69 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं।  वहीं नौ सेना ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से जानकारी देते हुए बताया है कि, नेवी में एसएसआर की 2800 और एमआर की 200 वैकेंसी निकाली गई थी जिसमें 9 लाख से अधिक युवाओं ने आवेदन किया है इसकी खास बात ये है कि इसमें 82000 महिला उम्मीदवार भी सम्मिलित हैंI    

इससे पूर्व, नौसेना में नाविकों के रूप में महिलाओं की भर्ती नहीं होती थी, लेकिन अग्निपथ योजना के प्रारम्भ होने के बाद अब  नेवी में संचार (इलेक्ट्रॉनिक युद्ध), सीमैन (अंडरवाटर सेंसर) सहित अपनी सभी शाखाओं में 20% या 600 महिला अग्निवीरों को शामिल करने का निर्णय लिया है। 

नौ सेना के अनुसार, महिला अग्निवीरों की नियुक्ति जहाजों  पर पदों और आवश्कतानुसार की जाएगी I

सेना की योजना इस वर्ष दो बैचों में 40,000 अग्निवीरों की भर्ती की है, जबकि नौसेना और वायु सेना प्रत्येक में 3,000- 3,000 अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी।

अग्निपथ योजना के अंतर्गत, भारतीय सेनाओं में अगले चार वर्षों में लगभग 59,000 सैनिकों, वायुसैनिकों और नौसैनिकों की भर्ती होने की संभावना है।

इस योजना में उम्मीदवारों का चयन शारीरिक और मेडिकल  फिटनेस के साथ-साथ एक लिखित परीक्षा के माध्यम से होगा।

उल्लेखनीय है कि, हाल ही में केंद्र सरकार ने भारतीय सेनाओं में रिक्तियों को भरने के लिए अग्निपथ योजना शुरू की है, इस योजना के अंतर्गत अब सेना में 4 वर्ष के लिए युवाओं को भर्ती किया जायेगा, इसके बाद 75 प्रतिशत अग्निवीरों को रिटायर कर दिया जायेगा जबकि 25 प्रतिशत अग्निवीर सेना में अपनी सेवा जारी रखेंगेI इसके लिए उम्र सीमा को 17 से 21 वर्ष निर्धारित किया गया है परन्तु कोविड महामारी के कारण 2 वर्ष से सेनाओं में कोई भर्ती नही हुई थी जिससे इस वर्ष अग्निपथ में आवेदन की उम्र सीमा को 21 से बढ़ाकर 23 वर्ष किया गया हैI 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *