Air India की फ्लाइट में पेशाब कांड पर बोले टाटा ग्रुप के चेयरमैन, कहा- हमने कार्रवाई करने में देरी की

हाइलाइट्स

एयर इंडिया की न्यूयॉर्क-नयी दिल्ली उड़ान में यात्री ने महिला यात्री के कंबल पर पेशाब कर दिया था.
घटना तब सामने आई है, जब महिला ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन को पत्र लिखा.

मुंबई. टाटा समूह के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने रविवार को स्वीकार किया कि शराब के नशे में एक यात्री द्वारा एक महिला सहयात्री पर कथित रूप से पेशाब करने की घटना पर एयर इंडिया की प्रतिक्रिया ‘अधिक तेज’ होनी चाहिए थी. पिछले साल एयर इंडिया की एक अंतरराष्ट्रीय उड़ान के दौरान यह घटना हुई. इस घटना के सामने आने के बाद नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इस बारे में टाटा समूह के स्वामित्व वाली एयरलाइन से जवाब मांगा.

चंद्रशेखरन ने एक बयान में कहा, ‘हम इस घटना को उस तरह से संभालने में विफल रहे, जिस तरह से हमें इसे संभालना चाहिए था.’ यह चौंकाने वाली घटना 26 नवंबर, 2022 की है. एयर इंडिया की न्यूयॉर्क-नयी दिल्ली उड़ान की ‘बिजनेस श्रेणी’ में सवार नशे में धुत एक यात्री ने करीब 70 वर्षीय एक महिला सहयात्री पर कथित तौर पर पेशाब कर दिया था. इस घटना के आरोपी शंकर मिश्रा को दिल्ली पुलिस ने शनिवार को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है.

चंद्रशेखरन ने इस प्रकरण पर टाटा समूह का रुख साफ करते हुए कहा, ‘मेरे और एयर इंडिया के मेरे सहयोगियों के लिए 26 नवंबर, 2022 को एयर इंडिया की उड़ान एआई102 में हुई यह घटना व्यक्तिगत पीड़ा का विषय है। एयर इंडिया की प्रतिक्रिया अधिक तेज होनी चाहिए थी. हम इस स्थिति को उस तरह से संभालने में विफल रहे, जिस तरह से हमें इसे संभालना चाहिए था.’

उन्होंने कहा, ‘टाटा समूह और एयर इंडिया अपने यात्रियों की सुरक्षा और भलाई के लिए पूरी तरह तत्पर हैं. हम इस तरह की अनियंत्रित प्रकृति की किसी भी घटना को रोकने या उससे निपटने के लिए समीक्षा करेंगे और हरसंभव व्यवस्था करेंगे.’ विमानन नियामक डीजीसीए ने कहा है कि इस घटना से निपटने में एयर इंडिया का आचरण ‘पेशेवराना’ नहीं था. उसने एयरलाइन, उसकी उड़ान सेवाओं के निदेशक और उड़ान संचालित करने वाले चालक दल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

एअर इंडिया के सीईओ कैम्पबेल विल्सन भी इस घटना के लिए माफी मांग चुके हैं. उन्होंने कहा कि चालक दल के चार सदस्यों तथा एक पायलट को जांच पूरी होने तक ड्यूटी से हटा दिया गया है. उन्होंने इसका अधिक ब्योरा न देते हुए कहा है कि एयरलाइन विमान में शराब परोसने की अपनी नीति की समीक्षा कर रही है.

घटना से उचित तरीके से न निपटने के लिए आलोचनाओं के बीच विल्सन ने एक बयान में कहा कि एयरलाइन इस मामले से बेहतर तरीके से निपट सकती थी और उन्होंने ऐसे अनुचित व्यवहार की शिकायत करने के लिए मजबूत तंत्र बनाने का वादा किया. सहयात्री पर पेशाब करने के आरोपी शंकर मिश्रा को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है. बाद में दिल्ली की एक अदालत ने मिश्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

Tags: Air india, Tata

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *