Aligarh Liquor Case: पुलिस के हत्थे चढ़ा मुख्य आरोपी Rishi Sharma, सिर पर था 1 लाख का इनाम

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ जिले में जहरीली शराब (Aligarh Liquor Case) से बड़ी संख्या में लोगों की मौत के मामले में मुख्य आरोपी और शराब माफिया ऋषि शर्मा (Rishi Sharma) को रविवार सुबह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि आरोपी ऋषि शर्मा को अलीगढ़-बुलंदशहर की सीमा पर गिरफ्तार किया गया. वह 9 दिन तक अपने ठिकाने पर छिपे रहने के बाद दूसरी जगह पर भागने की फिराक में था.

भागने की फिराक में था मुख्य आरोपी

उन्होंने बताया कि शनिवार रात पुलिस को यह खबर मिली कि आरोपी ऋषि शर्मा अपनी गाड़ी से रविवार को बुलंदशहर जाएगा. इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर उसकी गाड़ी से भारी मात्रा में जहरीली शराब बरामद की.

जहरीली शराब मामले में अब तक 61 आरोपी गिरफ्तार

बता दें कि पुलिस जहरीली शराब से मौतों के मामले में अब तक 61 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. अलीगढ़ के विभिन्न इलाकों में जहरीली शराब से 35 लोगों की मौत के मामले में 13 अलग-अलग मुकदमों में आरोपी ऋषि शर्मा पर घोषित 75,000 रुपये के इनाम को शनिवार को ही बढ़ाकर एक लाख रुपये किया गया था.

ये भी पढ़ें- सुबह या शाम, कब ज्यादा असरदार है वैक्सीन लगवाना? स्टडी में किया गया ये दावा

6 राज्यों में मुख्य आरोपी का नेटवर्क

पुलिस ने पांच दिनों के दौरान आरोपी के परिवार के पांच सदस्यों उसकी पत्नी, बेटे, दो भाइयों और एक भतीजे को गिरफ्तार किया था. पुलिस ऋषि की गिरफ्तारी के लिए आसपास के 6 राज्यों में भी सक्रिय थी. इन राज्यों में उसका नेटवर्क था.

गौरतलब है कि अलीगढ़ के टप्पल और अकराबाद थाना इलाके में बीते 28 मई से शुरू हुआ जहरीली शराब पीने से मौतों का सिलसिला कई दिनों तक जारी रहा. प्रशासन के मुताबिक, इस घटना में अब तक कम से कम 35 लोगों की मौत हुई है. हालांकि संदिग्ध रूप से जहरीली शराब पीने के कारण मरे 98 लोगों का अब तक पोस्टमॉर्टम कराया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- मोबाइल चार्ज करते वक्त फटा पावर बैंक! जोरदार धमाके में युवक की मौके पर ही मौत

प्रशासन का मानना है कि 35 के अलावा जिन लोगों का भी पोस्टमॉर्टम हुआ है, उनकी विसरा रिपोर्ट आने के बाद ही माना जाएगा कि उनकी मौत जहरीली शराब पीने से हुई है.

LIVE TV

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *