All About Hyponatremia: ज्यादा पानी पीने से हुई थी ब्रूस ली की मौत ! जानें कैसे जहर बन सकता है पानी

हाइलाइट्स

अत्यधिक पानी पीने से खून में सोडियम की मात्रा कम हो जाती है.
लंबे समय तक इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बिगड़ना जानलेवा हो सकता है.

How Hyponatremia Can Cause Death: मशहूर अभिनेता और मार्शल आर्ट्स के लेजेंड ब्रूस ली  (Bruce Lee) की मौत के करीब 50 साल बाद एक बार फिर इस बात को लेकर चर्चाएं चल रही है. इसकी वजह एक हालिया रिसर्च है, जिसमें दावा किया गया है कि ब्रूस ली की मौत अत्यधिक पानी पीने की वजह से हुई थी. साल 1973 में हांगकांग में ब्रूस ली की मौत महज 32 साल की उम्र में हो गई थी. तब डॉक्टर्स ने उनकी मौत की वजह सेरेब्रल एडिमा (Cerebral Oedema) यानी ब्रेन में सूजन बताई थी. अब वैज्ञानिकों ने जो दावा किया है, उसे जानने के बाद हर कोई हैरान है. सभी यह जानना चाहते हैं कि ज्यादा पानी पीने से किसी व्यक्ति की मौत कैसे हो सकती है? इस बारे में विस्तार से जान लीजिए.

जानें कैसे हुई थी ब्रूस ली की मौत?

न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक रिसर्च करने वाले शोधकर्ताओं का कहना है कि ब्रूस ली की मौत अत्यधिक पानी पीने से हुई थी. जब शरीर में पानी की मात्रा ज्यादा हो जाती है और अतिरिक्त पानी बाहर नहीं निकल पाता, तब हाइपोनेट्रिमिया (Hyponatraemia) की कंडीशन हो जाती है. वैज्ञानिकों का मानना है कि ब्रूस ली ने भी इसी वजह से कम उम्र में अपनी जान गंवा दी. इसके अलावा उनकी किडनी भी अतिरिक्त पानी को बाहर निकालने में फेल रहीं, जिससे उनके खून में सोडियम की मात्रा बहुत कम हो गई. ब्रूस ली की मौत के बाद यह अफवाह भी उड़ाई गई थी कि उनकी जहर देकर हत्या हुई थी. हालांकि तब डॉक्टर्स ने मौत की वजह पेन किलर लेने की वजह से ब्रेन में सूजन आना बताई थी.

क्या होती है हाइपोनेट्रिमिया की कंडीशन?

मायोक्लीनिक की रिपोर्ट के अनुसार हाइपोनेट्रिमिया (Hyponatraemia) एक ऐसी कंडीशन है, जिसमें किसी व्यक्ति के ब्लड में सोडियम की कंसंट्रेशन नॉर्मल से काफी कम हो जाती है. सोडियम एक इलेक्ट्रोलाइट होता है, जो शरीर की सेल्स के आसपास पानी की मात्रा को रेगुलेट करता है. यह हमारी बॉडी की फंक्शनिंग को मेंटेन करने के लिए जरूरी होता है. अत्यधिक पानी पीने से भी शरीर में सोडियम डाइल्यूट हो जाता है और सेल्स में सूजन आना शुरू हो जाती है. कई बार इससे लोगों की जान भी चली जाती है. ब्लड में सोडियम की नॉर्मल मात्रा 135 से 145 mEq/L होती है. ब्लड में इससे कम सोडियम होने पर हाइपोनेट्रिमिया हो जाती है.

यह भी पढ़ें- भारतीय पुरुषों में किस वजह से घट रहा स्पर्म काउंट? एक्सपर्ट्स ने बताई वजह

हाइपोनेट्रिमिया की वजह जान लीजिए

– अत्यधिक पानी पीने से हाइपोनेट्रिमिया की समस्या हो सकती है.
– एंटी-डिप्रेशन और दर्द निवारक दवाइयां खाने से भी यह समस्या हो सकती है.
– हार्ट, किडनी और लिवर की डिजीज होने पर भी हाइपोनेट्रिमिया की प्रॉब्लम हो सकती है.
– इनएप्रोप्रियेट सिंड्रोम और एंटीड्यूरेटिक हॉर्मोन की वजह से भी ऐसा हो सकता है.
– अत्यधिक उल्टी, डायरिया और डिहाइड्रेशन की वजह से भी ऐसा हो सकता है.

यह भी पढ़ें- कोविड-19 से जूझने वाले डायबिटीज पेशेंट्स के लिए बुरी खबर ! यहां जान लीजिए

जानें हाइपोनेट्रिमिया के लक्षण

– मतली और उल्टी
– सिर दर्द होना
– कन्फ्यूजन होना
– एनर्जी कम होना
– अत्यधिक थकान होना
– बेचैनी और चिड़चिड़ापन
– मांसपेशियों में कमजोरी
– अचानक दौरे पड़ना
– बेहोश होकर कोमा में चले जाना

क्या होता है हाइपोनेट्रिमिया का इलाज?

लोगों को हाइपोनेट्रिमिया के लक्षण दिखने पर डॉक्टर से मिलना चाहिए. डॉक्टर लक्षणों के अनुसार टेस्ट करने के बाद आपको इसकी दवा दे सकते हैं. अगर सही समय पर हाइपोनेट्रिमिया का इलाज करवाया जाए तो लोगों की जान बच सकती है और ब्लड में सोडियम कंसंट्रेशन को नॉर्मल किया जा सकता है. समय-समय पर हेल्थ चेकअप के जरिए भी इस समस्या को पहचाना जा सकता है.

Tags: Blood, Health, Lifestyle, Trending news

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *