Deoghar: बैद्यनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए मुफ्त सेवा, मिलेंगी यह सुविधाएं…

परमजीत कुमार

देवघर. झारखंड का देवघर पर्यटन के लिहाज से महत्वपूर्ण शहर है. इसे प्रदेश की सांस्कृतिक राजधानी भी कहा जाता है. विश्व प्रसिद्ध बैद्यनाथ मंदिर में पूजा करने देश विदेश से श्रद्धालु पहुंचते हैं. वो यहां एक-दो दिन रूक कर बाबा नगरी का लुत्फ उठाते हैं. इसे देखते हुए देवघर में हर तरह के होटल मौजूद हैं जहां टिकने के लिए किफायती से लेकर लग्जरी कमरे मिल जाते हैं. इसके अलावा, सरकार की ओर से देवघर आने वाले श्रद्धालुओं के  ठहरने के लिए यहां मुफ्त में व्यवस्था की गई है.

यहां आने वाले लोगों की सुविधा के मद्देनजर देवघर में महिला व जसीडीह में पुरुषों के लिए आश्रय गृह का निर्माण कराया गया है जहां गद्देदार बेड, तकिया, मच्छरदानी व कंबल का इंतजाम है. साथ ही पानी, बिजली, शौचालय व स्नानागार की भी व्यवस्था की गई है. यहां रात्रि विश्राम बिल्कुल मुफ्त है. इसका संचालन दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय आजीविका मिशन के तहत भारत सरकार एवं नगर विकास एवं आवास विभाग झारखंड सरकार के संयुक्त प्रयास से किया जा रहा है. स्थानीय स्तर पर नगर निगम इसकी निगरानी करता है.

आगंतुकों के लिए आधार कार्ड दिखाना अनिवार्य
देवघर के प्राइवेट बस स्टैंड के पीछे संचालित महिला आश्रय गृह में ठहरने के लिए 50 बेड का इंतजाम किया गया है. वहीं, जसीडीह के नरेंद्र भवन में पुरुषों के लिए आश्रय गृह संचालित है. यहां 45 बेड की व्यवस्था है. आश्रय गृह में विश्राम करने के लिए आधार कार्ड दिखाना अनिवार्य है. रात 10 बजे के बाद यहां प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाती है.

सेवा पूरी तरह से मुफ्त
महिला आश्रय गृह की केयरकेटर दीपा कुमारी ने बताया कि यहां 50 बेड की व्यवस्था है. ठहरने के लिए गद्दा, कंबल, चादर, पानी, बिजली आदि की सुविधा दी जाती है. वहीं, पुरुष आश्रय गृह के केयरकेटर कुंदर राणा ने बताया कि यहां लोगों के विश्राम के लिए 45 बेड का इंतजाम किया गया है. साफ-सफाई का खास ख्याल रखा जाता है. आगंतुकों के लिए आधार कार्ड दिखाना अनिवार्य है. यह सेवा पूरी तरह से मुफ्त है.

Tags: Deoghar news, Jharkhand news, Pilgrims

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *