Family of 3 found dead in Vadodara: वडोदरा में दंपति ने अपने बच्चे के साथ जान दी, कर्ज से थे परेशान

हाइलाइट्स

पुलिस के मुताबिक, प्रीतेश मिस्त्री, उनकी पत्नी स्नेहा और बेटे हर्षिल को घर में मृत पाया गया
प्रीतेश ने अपनी मां को टेक्स्ट मैसेज भेजकर सोमवार को लंच के लिए घर आने को कहा था
मां ने देखा कि बेटा बेडरूम में लटका हुआ है और बिस्तर पर स्नेहा और हर्षिल के शव हैं

अहमदाबाद. गुजरात के वडोदरा में एक ही परिवार के तीन लोगों द्वारा आत्महत्या करने से इलाके में सनसनी फैल गई है. न्यूज़ एजेंसी ANI की एक रिपोर्ट के अनुसार वडोदरा के वाघोडिया रोड (Waghodia road) इलाके में सोमवार को आर्थिक तंगी के कारण एक सात वर्षीय बच्चे सहित तीन लोगों के एक परिवार ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. पुलिस के मुताबिक, प्रीतेश मिस्त्री, उनकी पत्नी स्नेहा और बेटे हर्षिल को सोमवार सुबह प्रीतेश की मां ने मृत पाया जो उनके घर आई थीं.

प्रीतेश के दोस्त कुणाल चुनारा के मुताबिक, मिस्त्री ने रविवार रात अपनी मां को टेक्स्ट मैसेज भेजकर सोमवार को लंच के लिए उनके घर आने को कहा था. हालांकि, जब वह पहुंची तो प्रीतेश ने दरवाजे की घंटी या फोन कॉल का जवाब नहीं दिया. जब फोन रिसीव नहीं हुआ तो मां ने प्रीतेश की पत्नी स्नेहा को फोन किया. स्नेहा के भी फोन नहीं उठाने पर वह घर के पीछे के दरवाजे से घर में दाखिल हुई जहां उन्हें तीनों मृत अवस्था में मिले. मां ने देखा कि बेटा बेडरूम में लटका हुआ है और बिस्तर पर स्नेहा और हर्षिल के शव हैं. मृतक मिस्त्री ने बेडरूम की दीवार पर अपनी मां को संबोधित करते हुए एक नोट लिखा था और वित्तीय संकट का हवाला देते हुए आत्महत्या की बात कही थी.

वहीं मामले पर DCP यशपाल जगानिया ने बताया कि प्राथमिक दृष्टि से पत्नी और बेटे की मौत सांस रुक जाने की वजह से हुई है जिसके चलते माना जा रहा है कि प्रीतेश ने पहले बेटे और पत्नी को दम घोंट कर मारा फिर खुद फांसी लगा ली. पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है. उन्होंने बताया कि सुसाइड नोट में मुख्य कारण वित्तीय स्थिति को बताया गया है. कर्ज काफी हद तक बढ़ गया था.

Tags: Family suicide, Gujarat, Poor financial position, Suicide

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *