Good News: अब दिव्यांगों को भी मिलेगा पक्का घर, UP के मुरादाबाद में सर्वे का काम शुरू

पीयूष शर्मा

मुरादाबाद. कच्चे जर्जर व किराये के मकान में गुजर-बसर कर रहे दिव्यांगों के लिए अच्छी खबर है. अब उनका भी अपना पक्का घर होगा. ऐसे लोगों को मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान उपलब्ध कराया जाएगा. पात्रों के चयन के लिए ग्राम्य विकास सर्वे करेगा. पात्रता के आधार पर बेघर दिव्यांगों का चयन किया जाएगा. मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत अभी तक अनुसूचित जाति एवं जनजाति को विशेष पात्रता सूची में रखा गया था. इसके बाद कुष्ठ रोगियों को प्राथमिकता दी गई थी, लेकिन अब शासन ने दिव्यांग जनों को भी इस सूची में जोड़ने का आदेश जारी किया है.

मुरादाबाद जनपद में कुल 12,650 दिव्यांग लाभार्थी हैं. इन सभी को दिव्यांग पेंशन दी जा रही है. सभी का सर्वे कर उनके आश्रय के बारे में जानकारी एकत्रित की जाएगी. शासन की ओर से आवास का अभी कोई लक्ष्य तय नहीं किया गया है. फिलहाल सूचना पोर्टल पर अपलोड कराने के निर्देश दिए गए हैं. चयनित लाभार्थियों को आवास निर्माण के लिए 1.20 लाख रुपये दिए जाएंगे.

इनको मिलेगा आवास

ग्राम्य विकास अभिकरण की ओर से दिव्यांग पेंशन की सूची के अनुसार सर्वे शुरू हो गया है. इसके लिए सभी खंड विकास अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी किए गए है. ऐसे दिव्यांग जिन्हें पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है. उन्हें भी योजना में शामिल किया जाएगा. सर्वेक्षण से यह पता लगाया जा रहा है कि दिव्यांग के पास पक्का मकान है या नहीं.

सर्वे कर दी जाएगी धनराशि

परियोजना निदेशक ग्राम विकास अधिकारी सतीश प्रसाद मिश्र ने बताया कि जिन लोगों को दिव्यांग पेंशन दी जाती है, उसकी सूची हमारे पास है. उसके आधार पर उन दिव्यांगों का चयन किया जा रहा है जिनके पास रहने के लिए मकान नहीं है और जो पात्रता की श्रेणी में आते हैं. इसके साथ ही वर्ष 2014 के सर्वे में जिनका नाम प्रधानमंत्री आवास की पात्रता सूची में नहीं है. ऐसे दिव्यांगों को भी मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत 1.20 लाख रुपये की धनराशि उपलब्ध कराएंगे. इसका सर्वे किया जा रहा है.

बता दें कि, मुरादाबाद में अभी तक 128 लोगों की सूची आ गई है जिसे शासन को भेज दिया है. शासन की तरफ से अप्रूव होने के बाद उसका क्रॉस चेक किया जाएगा. उसके बाद पात्र विकलांग को धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी.

Tags: Good news, House, Moradabad News, Up news in hindi

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *