Maharashtra: घट रहे हैं कोरोना वायरस के मामले? यात्रियों ने उठाई Mumbai Local Trains बहाल करने की मांग

मुंबई: कोरोना महामारी की दूसरी लहर में कमी आते देख महाराष्ट्र (Maharashtra) की उद्धव ठाकरे सरकार ने लॉकडाउन में फेजवाइज छूट देने का प्लान बनाना शुरू कर दिया है. इसी बीच मुंबई की लाइफलाइफ कही जाने वाली लोकल ट्रेनों (Mumbai Local Trains) को भी शुरू करने की मांग उठनी शुरू हो गई है. 

मुंबई में 15 अप्रैल से बंद हैं लोकल ट्रेन

जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना के मामले बढ़ने पर 15 अप्रैल को लॉकडाउन को लागू किया गया था. इसके साथ ही एक साल के भीतर दूसरी बार लोकल ट्रेनों (Mumbai Local Trains) को भी स्थगित करने की घोषणा कर दी गई थी. इससे पहले पिछले साल मार्च में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान ये ट्रेनों बंद की गईं थी.

फिलहाल सरकार ने इन लोकल ट्रेनों को आंशिक रूप से चला रखा है. इन ट्रेनों में अनिवार्य कार्यों से जुड़े लोगों और वैक्सीनेशन या इलाज के लिए अस्पतालों में जाने वाले लोगों को ही ट्रैवल की परमीशन है. बाकी लोगों को अभी इन ट्रेनों में सफर करने की मनाही है. कोरोना से पहले सामान्य दिनों में रोजाना करीब 30 लाख लोग इन ट्रेनों में सफर करते थे लेकिन अब यह संख्या गिनती की रह गई है. 

रेल यात्रियों ने की ट्रेन चलाने की मांग

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार को पैसेंजर्स की एसोसिएशन रेल यात्री परिषद (Rail Yatri Parishad) के प्रतिनिधिमंडल ने सेंट्रल रेलवे के अफसरों से मुलाकात की. परिषद के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने रेल अधिकारियों से कहा कि अब कोरोना के मामले कम होने शुरू हो गए हैं. इसलिए रेलवे अब लोकल ट्रेनों को फिर से शुरू करने पर विचार करे. उन्होंने लोकल ट्रेनों में महिला यात्रियों की सुरक्षा का मुद्दा भी उठाया. 

परिषद के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने कहा कि लोकल ट्रेन (Mumbai Local Trains) न चलने की वजह से काम पर जाने वाले लोगों को बहुत दिक्कत हो रही है. उन्होंने सुझाव दिया कि जो लोग कोरोना टीकाकरण करवा चुके हैं. उनके लिए लोकल ट्रेनों में एंट्री की इजाजत दे देनी चाहिए. 

‘सरकार से सलाह के बाद ही कोई फैसला’

इस संबंध में सेट्रल रेलवे के चीफ पीआरओ शिवाजी सुतार का कहना है कि लोकल ट्रेनों (Mumbai Local Trains) को शुरू करने के बारे में कोई भी फैसला राज्य सरकार से विचार करने के बाद ही लिया जाएगा. फिलहाल सरकार ने इस बारे में रेलवे से कंसल्ट नहीं किया है. संपर्क होने के बाद ही इस संबंध में कुछ कहा जा सकेगा. 

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र सरकार और रेलवे की तनातनी में पिस रहे 60 लाख आम मुसाफिर

महाराष्ट्र में कोरोना के 3 लाख केस

बताते चलें कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 57 लाख 9 हजार हो चुकी है. वहीं इस बीमारी से अब तक 54 लाख 9 हजार लोग ठीक हो चुके हैं. बाकी 3 लाख मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है. राज्य में कोरोना से अब तक 97,394 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

LIVE TV

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *