Mumbai में फर्जी Vaccine लगाने का मामला, Police ने 4 लोगों को हिरासत में लिया

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुंबई (Mumbai) की हीरानंदानी सोसायटी में फर्जी टीका लगाने के आरोप में पुलिस (Police) ने सख्त कार्रवाई करते हुए 4 लोगों को हिरासत में ले लिया है. सोसायटी में करीब 390 लोगों को फर्जी वैक्सीन लगाई गई थी. पुलिस ने वैक्सीन (Vaccine) सप्लाई करने वाले आरोपी को मध्य प्रदेश से हिरासत में ले लिया है. 

फर्जी वैक्सीनेशन कैंप के आयोजकों पर कार्रवाई

बता दें कि हीरानंदानी सोसायटी में रहने वाले लोगों से वैक्सीनेशन के 4 दिन बाद सर्टिफिकेट देने की बात कही गई थी. वैक्सीनेशन कैंप के लिए बीएमसी की मंजूरी भी नहीं ली गई थी. पुलिस ने जिन लोगों को हिरासत में लिया है वो कैंप को आयोजित करने में शामिल थे. इस मामले में पुलिस 5 लोगों को गिरफ्तार भी कर चुकी है.

ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन में जिंदा जलाने का मामला: झज्जर से मुख्य आरोपी गिरफ्तार

जान लें कि वैक्सीनेशन के लिए सोसायटी में कोई क्वालिफाइड डॉक्टर नहीं था. सोसायटी के मेंबर्स ने आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है. ऐसे कैंप मुंबई में 9 जगह आयोजित किए जा चुके हैं. वैक्सीन किस सोर्स से लाया गया, ये अभी तक साफ नहीं है.

पहले से टूटी हुई थी वैक्सीन की सील

इस मामले पर मुंबई के एडिशनल पुलिस कमिश्नर दिलीप सावंत ने कहा कि वैक्सीन सरकार से नहीं ली गई थी. जांच की जा रही है. पांच लोगों को अरेस्ट किया गया है. अधिकृत सोर्स से वैक्सीन नहीं लाई गई. वैक्सीन की सील पहले से टूटी हुई थी. इसकी जांच भी की जा रही है.

ये भी पढ़ें- गाजियाबाद दाढ़ी कांड: जल्द गिरफ्तार होगा उम्मेद पहलवान, की थी दंगा भड़काने की कोशिश

बीजेपी नेता ने की कार्रवाई की मांग

वहीं बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने कहा कि वैक्सीनेशन घोटाले में बीएमसी के लोग शामिल हैं. कांदिवली मामले को दबाने की कोशिश की जा रही है. बोगस आधार कार्ड बनाकर 18 से 22 साल तक के लोगों को टीका लगाया गया. आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए.

LIVE TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *