Norovirus: केरल में सामने आए नोरोवायरस के 2 मामले, जानें क्या हैं लक्षण और कैसे करें बचाव

तिरुवनंतपुरम. केरल के स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को एर्नाकुलम जिले में नोरोवायरस के दो मामलों की पुष्टि की. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, कक्षा 1 के दो छात्रों का नोरोवायरस टेस्ट पॉजिटिव आया है. दोनों छात्रों में डायरिया और उल्टी के लक्षण दिखाई दिए थे, जिसके बाद उनका परीक्षण किया गया और जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई है.

जिले के एक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि स्कूल के 62 छात्रों और कुछ अभिभावकों में लक्षण पाए गए, जिसके बाद दो नमूने राज्य सार्वजनिक प्रयोगशाला में परीक्षण के लिए भेजे गए थे, जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई.

नोरोवायरस एक वायरल बीमारी है जो विश्व स्तर पर आंत्रशोथ का सबसे आम कारण है. नोरोवायरस के लक्षणों में तेजी से दस्त और उल्टी शामिल हैं. उभरते हुए सबूत बताते हैं कि नोरोवायरस संक्रमण आंतों की सूजन, कुपोषण से जुड़ा है और लंबे समय तक बीमारी का कारण बन सकता है.

नोरोवायरस से बचाव के उपाय
नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने कहा कि नोरोवायरस से बचाव के लिए नियमित रूप से हाथ धोना चाहिए. फलों और सब्जियों का इस्तेमाल करने से पहले गर्म पानी में अच्छी तरह से धोना चाहिए. विश्व स्तर पर एक अनुमान के मुताबिक नोरोवायरस के सालाना 68.5 करोड़ मामले देखे जाते हैं, जिसमें पांच साल से कम उम्र के बच्चों में 20 करोड़ मामले शामिल हैं.

Tags: Kerala

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *