OMG! लखनऊ का रहने वाला राम भक्त श्रीलंका तक करेगा पदयात्रा, जानें क्या है वजह?

अयोध्या. रामनगरी अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य और दिव्य मंदिर बनाया जा रहा है. यही कारण है कि लाखों की संख्या में राम भक्त अयोध्या में राललला के दर्शन और पूजन के लिए पहुंच रहे हैं, लेकिन आज हम एक ऐसे भक्त से आपको मिलवाने जा रहे हैं जो भगवान राम के 14 वर्ष के वनवास के दौरान विश्राम करने वाले स्थानों की तलाश में पदयात्रा पर निकला है.

दरअसल राम भक्त रोहित ने अयोध्या से श्रीलंका तक भगवान राम के वनवासी स्वरूपों के दर्शन करने के लिए यात्रा प्रारंभ कर दी है. वहीं, लखनऊ के रहने वाले राम भक्त का दावा है कि लगभग 6 महीने में वह भगवान राम के वन गमन होते हुए श्रीलंका तक जाएगा. भगवान राम के चरित्र से रूबरू होने के लिए लखनऊ का यह युवा भगवान राम के रास्ते पर निकल पड़ा है. इतना ही नहीं बीते कुछ दिनों से यह राम भक्त अयोध्या के भगवान राम के जीवन से जुड़ी जगहों का भ्रमण कर रहा है. जिसमें भगवान श्रीराम का जन्म स्थान, राज महल, कनक महल, दशरथ महल और हनुमानगढ़ी को बारीकियों से देख और समझ रहा है.

जानिए कौन है राम भक्त?
लक्ष्मण नगरी यानी लखनऊ का रहने वाला राम भक्त रोहित की उम्र लगभग 23 साल है. यह हरियाणा में नौकरी करते हैं. NEWS 18 LOCAL से खास बात करते हुए रोहित बताते हैं कि 1 महीने की कमाई से 4 महीने तक यात्रा करते हैं. अभी तक 15 राज्यों की यात्रा कर चुके हैं.

प्रभु श्रीराम के प्रति समर्पित हैं रोहित
NEWS 18 LOCAL से बात करते हुए श्रीराम भक्त रोहित बताते हैं कि मैं अपने नाना से प्रभावित होकर इस कार्य को कर रहा हूं. दरअसल मेरे नाना अक्सर कहा करते थे कि अगर पूरे देश को जानना है, तो पूरे देश का भ्रमण करना होगा. नाना की सीख पर घर से निकला हूं. ऐसे में वनवास के समय जहां-जहां भगवान राम गए थे. उन सभी स्थानों तक जाऊंगा. इस दौरान मैं तमसा झील, मखौड़ा धाम, चित्रकूट, किष्किंधा रामेश्वरम के रास्ते अशोक वाटिका श्रीलंका जाऊंगा. इस पूरी यात्रा में लगभग 6 महीने का समय लगेगा.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 24, 2022, 16:15 IST

Share
Facebook Twitter Pinterest Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *