OMG! सरकारी नौकरी बचाने के लिए पिता ने 3 माह की बेटी को नहर में फेंका, डूबने से मौत, गिरफ्तार

हाइलाइट्स

बीकानेर के छत्तरगढ़ थाना इलाके की है घटना
नहर में फेंकी गई मासूम बच्ची आरोपी पिता की चौथी संतान थी
आरोपी विद्यालय सहायक के पद पर संविदाकर्मी के रूप में कार्यरत है

बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर (Bikaner) जिले में एक पिता ने सरकारी नौकरी (Sarakari Naukari) बचाने के लिए अपनी तीन माह की मासूम बेटी नहर में फेंक दिया. नहर में डूब जाने से बच्ची की मौत हो गई. पुलिस ने इस मामले में मृतका के माता पिता को गिरफ्तार कर लिया है. कड़ी मशक्कत के बाद मासूम का शव भी नहर से बरामद कर लिया गया है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है. दिल को दहला देने वाला यह मामला बीकानेर जिले के खाजूवाला सर्किल के छत्तरगढ़ पुलिस थाना इलाके से जुड़ा है. बहरहाल पुलिस आरोपियों से और पूछताछ करने में जुटी है.

खाजूवाला पुलिस उपाधीक्षक विनोद कुमार बताया की रविवार को छतरगढ़-बीकानेर भारतमाला रोड़ पर इंदिरा गांधी मुख्य नहर पुल के ऊपर से तीन माह की बच्ची को नहर में फेंका गया था. इससे नहर में डूबने से बच्ची की मौत हो गई. घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. वहां प्रत्यक्षदर्शियों ने मोटरसाइकिल सवार एक महिला और एक पुरुष के द्वारा यह घटना करना बताया गया. पुलिस ने बाद में कड़ी मशक्कत कर नहर में बच्ची के शव में ढूंढकर निकाला.

पुलिस ने मृतका के माता-पिता दोनों को किया गिरफ्तार
उसके बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश के लिए पूरे जिले में नाकाबंदी करवाई गई. पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर संदिग्ध मोटरसाइकिल सवारों की पहचान कर उनको पकड़ लिया. पूछताछ में दोनों ने वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया. उसके बाद पुलिस ने झंवरलाल मेघवाल और उसकी पत्नी गीता दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में सामने आया कि आरोपी झंवरलाल मेघवाल दियातरा गांव का रहने वाला है.

आपके शहर से (बीकानेर)

राजस्थान
बीकानेर

राजस्थान
बीकानेर

मासूम बच्ची अंशिका उसकी चौथी संतान थी
नहर में फेंकी गई मासूम बच्ची अंशिका उसकी चौथी संतान थी. आरोपी अपनी एक बेटी को पहले ही अपने छोटे भाई को गोद दे चुका है. आरोपी झंवरलाल पंचायत चांडासर में विद्यालय सहायक के पद पर संविदाकर्मी के रूप में कार्यरत है. उसने सरकारी रिकॉर्ड में बीते दिसंबर में दो बच्चे होने का शपथ-पत्र दिया था. उसको अंदेशा था कि एक और बच्ची होना साबित हो जाने से भविष्य में उसका स्थायीकरण नहीं हो पाएगा. इसलिए उसने पत्नी के साथ मिलकर ससुराल चक 4 सीएचडी से वापिस दियातरा जाते समय इस घटना को अंजाम दे डाला.

Tags: Bikaner news, Crime News, Murder case, Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *