UP: संजय निषाद की CM Yogi और केशव मौर्य से मुलाकात, UP चुनाव से पहले की ये मांग

लखनऊ: भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा (JP Nadda) से हाल में मुलाकात करके लौटे निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद (Sanjay Nishad) ने उत्तर प्रदेश के आगामी विधान सभा चुनाव में खुद को उपमुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित किए जाने की मांग कर राजनीतिक गलियारों में हलचल पैदा कर दी. संजय निषाद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और डिप्टी सीएम केशव मौर्य (Keshav Prasad Maurya) से भी मुलाकात की है. 

UP CM से निषाद की क्या बात हुई?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से मुलाकात के बाद निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद (Sanjay Nishad) ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने मुझसे कहा है कि हमारी मांगें पूरी की जाएंगी. मेरे और मेरे समाज के खिलाफ लगे केस वापस लेने के लिए दोबारा जांच का आश्वासन दिया है. मैंने सीएम से आरक्षण का वादा पूरा करने की मांग की.’ संजय निषाद ने कहा, सीएम योगी ने उनसे 2022 की तैयारी करने के लिए भी कहा है. हम हमेशा बीजेपी के साथ रहे हैं और हम उनके साथ रहेंगे. सीटें देने का अधिकार बीजेपी का है, वो बड़ी पार्टी है.

केशव से मुलाकात के मायने?

संजय निषाद ने बेटे के साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य से भी मुलाकात भी की. निषाद केशव से मिलने उनके घर पहुंच गए. संजय की यह मुलाकात भाजपा पर दबाव के रूप में देखी जा रही है. कल ही सीएम योगी समेत भाजपा के तमाम बड़े नेता केशव प्रसाद मौर्य से मिलने उनके आवास पहुंचे थे. 

उपमुख्यमंत्री पद की मांग

इससे पहले निषाद ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश में सभी जातियों के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री बन चुके हैं इसलिए भाजपा को 2022 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में मुझे उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा कर देनी चाहिए. इससे भाजपा को भी खुशी होगी और निषाद पार्टी भी खुश रहेगी.’ निषाद ने दावा किया ‘प्रदेश में 160 विधान सभा क्षेत्र निषाद बहुल हैं और 70 क्षेत्रों में निषाद समुदाय की आबादी 75 हजार से ज्यादा है. निषाद पार्टी 100 सीट जीतने का संकल्प लेकर बूथ स्तर पर काम कर रही है. हमें मुख्यमंत्री ना सही, उपमुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाकर चुनाव में जाने से भाजपा को फायदा होगा.’

यह भी पढ़ें: कोरोना: डेल्‍टा+ वेरिएंट की दस्तक के बीच इस राज्‍य में 24 घंटे में आए 10066 नए केस

पार्टी का है 1 विधायक है

नड्डा से 16 जून को मुलाकात करके आए निषाद ने कहा, ‘प्रदेश में 2022 के चुनाव में भाजपा-निषाद गठबंधन के तहत अपनी हिस्सेदारी के तहत निषाद पार्टी ने भाजपा से 160 सीटें देने को कहा है.’ गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश विधान सभा में निषाद पार्टी का एक विधायक है जबकि संजय निषाद के बेटे प्रवीण निषाद संत कबीर नगर से भाजपा के सांसद हैं. निषाद ने कहा कि मछुआरा समुदाय वोटिंग मशीन में अब समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस के बटन को छूता भी नहीं है, इसलिए ये तीनों पार्टियां आज कहां हैं, यह सबको मालूम है.

LIVE TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *