UP Conversion Racket के मास्टरमाइंड का वीडियो आया सामने, हर महीने 15 से ज्यादा लोगों के धर्म परिवर्तन का दावा

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण रैकेट (UP Conversion Racket) के मास्टरमाइंड उमर गौतम (Umar Gautam) का एक वीडियो सामने आया है. वीडियो में उमर गौतम ने धर्मांतरण की बात कबूल की है और दावा किया है कि उसने खुद दिल्ली के जामिया स्थित इस्लामिक दवाह सेंटर में 1000 लोगों को धर्मांतरण से संबंधित डॉक्यूमेंट जारी किए हैं.

‘हर महीने 15 से ज्यादा लोगों का धर्मांतरण’

वीडियो में उमर गौतम (Umar Gautam) ने दावा किया है कि इस्लामिक दवाह सेंटर (IDC) में हर महीने करीब 15 से ज्यादा लोगों के धर्मांतरण से संबंधित कागजात तैयार किए जाते हैं. इसके साथ ही उसने यह भी बताया है कि इस्लामिक दवाह सेंटर में पोलैंड, इंग्लैंण्ड, सिंगापुर और अमेरिका तक के लोंगों का धर्मांतरण हुआ है.

धर्म बदलने वालों को लीगल और मोरल सपोर्ट का दावा

वीडियो में उमर गौतम (Umar Gautam) कहता है कि उसने गोरखपुर के यादव घराने के शख्स का धर्म परिवर्तन करा कर उसका नाम मोहम्मद उस्मान रखा. हमारी कोशिश है कि जो लोग इस्लाम को कबूल करते हैं, उन्हें लीगल और मोरल सपोर्ट दिया जाए. वीडियो में उमर ने कानपुर की एक लड़की का भी जिक्र किया है, जिसने उससे प्रभावित होकर इस्लाम कबूल किया.

ये भी पढ़ें- धर्मांतरण रैकेट मामले में यूपी पुलिस की खुफिया रिपोर्ट से हुए कई बड़े खुलासे

7 दिनों की रिमांड पर उमर गौतम

बता दें कि धर्मांतरण रैकेट (Conversion Racket) मामले में उमर गौतम (Umar Gautam) और जहांगीर को दिल्ली के जामिया नगर से गिरफ्तार किया गया था. यूपी एटीएस को उमर और जहांगीर दोनों की सात दिन की रिमांड मिल गई है.

लालच देकर कराते थे धर्म परिवर्तन

यूपी पुलिस की खुफिया रिपोर्ट में कई बड़े खुलासे हुए हैं और बताया गया है कि नोएडा डेफ सोसायटी में पढ़ने वाले 12-15 मूक-बधिर युवकों को लालच देकर धर्म परिवर्तन कराया गया. पूछताछ में पता चला है कि इस रैकेट के जरिए बहरे और गूंगे युवाओं को टारगेट किया जा रहा था. एटीएस के मुताबिक, उमर और जहांगीर ने अब तक गरीब महिलाओं के साथ मूक-मधिर बच्चों और अपाहिजों को मिलाकर 1000 से ज्‍यादा लोगों का धर्मांतरण कराया है. दोनों न सिर्फ लालच, बल्कि डरा-धमका कर भी धर्म परिवर्तित करवाते थे.

लाइव टीवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *