Weather Update Today: 2 दिन बाद दिल्ली से यूपी तक मिलेगी भीषण शीतलहर से राहत; इन जगहों पर बारिश की उम्मीद; ये है IMD का अपडेट

हाइलाइट्स

दिल्ली से लेकर बिहार तक के इलाकों में अगले कुछ दिनों में भीषण शीतलहर से राहत मिलने की उम्मीद है.
IMD के मुताबिक 18 और 20 जनवरी को दो पश्चिमी विक्षोभ उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित कर सकते हैं.
20 से 22 जनवरी के बीच उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है.

नई दिल्ली. दिल्ली से लेकर बिहार तक के इलाकों में अगले कुछ दिनों में भीषण शीतलहर (Cold wave) से राहत मिलने की उम्मीद है. उत्तर और उत्तर पश्चिम भारत पिछले कुछ हफ्तों से भीषण शीत लहर से कांप रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department-IMD) के मुताबिक 18 जनवरी और 20 जनवरी को दो पश्चिमी विक्षोभ उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित कर सकते हैं. IMD ने कहा कि इसके असर से उत्तर पश्चिम भारत में शीत लहर की स्थिति 19 जनवरी से खत्म होने की संभावना है. उससे पहले पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) के कारण 18 से 20 जनवरी के बीच जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी की संभावना है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) 18 जनवरी की रात से पश्चिमी हिमालय क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है. इसके कारण जम्मू-कश्मीर-लद्दाख-गिलगित-बाल्टिस्तान-मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में 18 से 20 जनवरी के दौरान हल्की से मध्यम तक छिटपुट बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है. इस बीच दूसरा पश्चिमी विक्षोभ 20 से 24 जनवरी के बीच जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी ला सकता है. 20 से 22 जनवरी के बीच उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है.

शीतलहर का अलर्ट, कड़ाके की सर्दी के बीच स्कूलों में विंटर वेकेशन का ऐलान, जानें आपके राज्य का अपडेट

आईएमडी के मुताबिक 17 जनवरी की सुबह तक उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में लगभग दो डिग्री सेल्सियस की और गिरावट आने की संभावना है. हालांकि, 18 जनवरी तक कोई महत्वपूर्ण बदलाव की भविष्यवाणी नहीं की गई है. इसके बाद इस इलाके में 19 से 21 जनवरी के बीच तापमान के चार से छह डिग्री सेल्सियस बढ़ने की उम्मीद है. जबकि 18 जनवरी तक पूर्वी भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है और उसके बाद कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होगा. बुधवार के बाद गुजरात में भी तापमान दो से चार डिग्री सेल्सियस तक बढ़ने की उम्मीद है.

Tags: Cold wave, India Meteorological Department, Weather forecast, Weather news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *