What is an Agniveer: अग्निवीर 4 साल के बाद ऐसे होंगे परमानेंट, करना होगा ये काम, जानें पूरी डिटेल 

What is an Agniveer: भारतीय सेना (Indian Army) ने अग्निवीरों (Agniveer) के एक चौथाई लोगों को रिटेन करने के लिए एक विस्तृत एवैल्यूशन सिस्टम तैयार किया है. इस पैमाने के तहत अग्निवीरों को सेवा के चौथे वर्ष में सेना में रिटेन की जाएगी. हर चौथे साल अग्निवीरों (Agniveer Recruitment:) को इस पैमाने से गुजरना होगा. अग्निवीरों को ऑप्शनल एप्टीट्यूड, वेपन प्रोफिशिएंसी, फिजिकल फिटनेस और अन्य स्किल्स के आधार पर इनके परफॉर्मेंस को मापा जाएगा. इसी के तहत अग्निवीरों को रेटिंग भी दी जाएगी. एचटी के एक रिपोर्ट के मुताबिक उन अग्निवीरों को प्रथामिकता दी जाएगी, जिनकों वीरता पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा.

Agniveer को कैसे मिलेगी रेटिंग
रक्षा मंत्रालय ने तीनों सेनाओं के लिए जून 2022 में अग्निवीर स्कीम लॉन्च किया था. अब इसी अग्निवीर स्कीम के तहत तीनों सेनाओं आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में शॉर्ट-टर्म के लिए भर्ती की जा रही है. इनका कार्यकाल 4 वर्षों को रखा गया है. इसके बाद इनमें से 25% अग्निवीरों को रेगुलर कैडर के लिए रखा जाएगा. इसके लिए एक पैमाना तैयार किया गया है. आइए इसको विस्तार से जानते हैं…

सबसे पहले रेटिंग मानदंड में ऑप्शनल एप्टीट्यूड को रखा गया है. इसका वार्षिक मूल्यांकन चेन ऑफ कमांड के जरिए होगी. इसके लिए 39% वेटेज दिया जाएगा.
इसके बाद दूसरे साल में शारीरिक फिटनेस, फायरिंग और ड्रिल का मूल्यांकन किया जाएगा. इसके लिए 36% वेटेज दी जाएगी.
तीसरा, एक स्वतंत्र स्क्रीनिंग बोर्ड अग्निवीरों की नियुक्ति के पहले और चौथे वर्ष में विभिन्न व्यावसायिक पहलुओं पर उनका आकलन करने के लिए लिखित और प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित करेगा. इसका वेटेज 25% होगा. 
वीरता पुरस्कार पाने वालों को अतिरिक्त अंक दिए जाएंगे और अनुशासनहीनता पर नेगेटिव अंक मिलेंगे.

Agniveer के लिए होगी ये परीक्षा
भारतीय सेना ने अग्निवीरों के भर्ती के लिए e-RecruiteX सॉफ्टवेयर का इतेमाल करेगी. इस साल से अग्निवीर भर्ती रैली से पहले ऑनलाइन कंबाइंड एंट्रेंस एग्जाम लिया जाएगा. सेना के पहले अग्निवीरों ने 2 जनवरी, 2023 को देशभर में बेहतर बुनियादी ढांचे के साथ रेजिमेंटल केंद्रों में अपना प्रशिक्षण शुरू कर दिया है. 19,000 से अधिक अग्निवीरों ने पहले चरण में अपना प्रशिक्षण शुरू किया है. दूसरे बैच में 21,000 अग्निवीर 1 मार्च को प्रशिक्षण शुरू करेंगे. हर साल मई और नवंबर में नए बैच इस प्रशिक्षण के लिए शामिल होंगे.

What is the salary of Agniveer?
अग्निवीरों को सेवा के पहले वर्ष में ₹4.76 लाख और चौथे वर्ष में ₹6.92 लाख का वार्षिक वेतन मिलेगा, उन्हें ₹48 लाख का गैर-अंशदायी बीमा कवर और सेवा के दौरान मृत्यु होने पर ₹44 लाख का अतिरिक्त अनुग्रह भुगतान मिलेगा.

Agniveer को चाल साल के बाद मिलेगी ये सुविधा
चार साल के बाद रिहा होने वालों को सेवा निधि सेवरेंस पैकेज के रूप में 11.71 लाख रुपये मिलेंगे, जिसमें उनकी सेवा के दौरान उनके द्वारा दिए गए 5.02 लाख रुपये का योगदान भी शामिल है. उनके पास विभिन्न सरकारी संगठनों, अर्धसैनिक बलों और अन्य विभागों में नौकरी का कोटा भी होगा.

ये भी पढ़ें…
भारतीय खाद्य निगम ने जारी किया मैनेजर का रिजल्ट, ऐसे आसानी से करें चेक
कृषि विभाग में ऑफिसर बनने का सुनहरा मौका, बस होनी चाहिए ये योग्यता

Tags: Agniveer, Central Govt Jobs, Govt Jobs, Jobs, Jobs in india, Jobs news, Permanent jobs, Recruitment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *